पेटीएम (Paytm) ने सोमवार को बताया है कि दिसंबर तिमाही में उसके प्लेटफॉर्म के जरिए डिस्बर्स किए गए लोन की संख्या में सालाना आधार पर 5 गुना का उछाल आया है और 44 लाख लोन डिस्बर्स किए गए हैं। कंपनी का कहना है कि लेंडिंग बिजनेस तेजी से रफ्तार पकड़ रहा है। पेटीएम ने एक्सचेंज को दी गई जानकारी में बताया है कि दिसंबर 2021 तिमाही में उसके प्लेटफॉर्म के जरिए डिस्बर्स किए गए लोन की वैल्यू 2,180 करोड़ रुपये रही है। सालाना आधार पर इसमें 365 फीसदी का उछाल आया है। 

कंपनी ने कहा, प्रत्येक लेंडिंग प्रॉडक्ट्स में सधी हुई ग्रोथ 
पेटीएम (Paytm) ने बताया है कि पेटीएम पोस्टपेड (बाय-नाउ पे लेटर), पर्सनल लोन और मर्चेंट्स लोन जैसे प्रत्येक लेंडिंग प्रॉडक्ट्स में सधी हुई ग्रोथ देखने को मिली है। कंपनी ने स्पष्ट किया है कि सारी लेंडिंग बैंकों और NBFC के साथ पार्टनरशिप में की गई है और अपने लेंडिंग बिजनेस के लिए किसी भी लेंडर को नो फर्स्ट लोन डिफॉल्ट गारंटी (FLDG) नहीं दी गई है।  

यह भी पढ़ें- कभी 20 रुपये भी नहीं था भाव और अब यह स्टॉक निवेशकों को बना रहा करोड़पति 

कंपनी की ग्रॉस मर्चेंडाइज वैल्यू में जारी रही ग्रोथ
पेटीएम ने कहा है कि चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में GMV (ग्रॉस मर्चेंडाइज वैल्यू) ग्रोथ जारी रही। कंपनी ने कहा है कि दिसंबर 2021 तिमाही में उसके प्लेटफॉर्म के जरिए प्रोसेस्ड GMV करीब 250,100 करोड़ रुपये रहा। सालाना आधार पर इसमें 123 फीसदी की ग्रोथ दर्ज की गई है। कंपनी ने कहा है कि मर्चेंट बेस में लगे उसके टोटल डिवाइसेज की संख्या 30 जनवरी 2021 को 9 लाख थी, जो कि 30 सितंबर 2021 को बढ़कर करीब 13 लाख हुई। अब डिवाइसेज की संख्या 31 दिसंबर 2021 तक 20 लाख के करीब पहुंच गई है। 

यह भी पढ़ें- 900 रुपये तक जा सकता है Paytm का शेयर, इस विदेशी ब्रोकरेज हाउस ने घटाया टारगेट प्राइस

मैक्वायरी ने घटाया स्टॉक का टारगेट प्राइस
पेटीएम (पैरेंट कंपनी One97 कम्युनिकेशंस) के स्टॉक बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में सोमवार को 6.01 फीसदी की गिरावट के साथ 1157.90 रुपये पर बंद हुए हैं। विदेशी ब्रोकरेज हाउस मैक्वायरी ने सोमवार को पेटीएम के स्टॉक का टारगेट प्राइस 1200 रुपये से घटाकर 900 रुपये कर दिया है।



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *