f975a31377bf331eb1c7924dafb6e265 original


Farmers Protest: अमेरिका ने बुधवार को भारत में अपने नागरिकों के लिए एक सुरक्षा अलर्ट जारी किया, जिसमें उन्हें नई दिल्ली में किसानों के विरोध के मद्देनजर अपनी सुरक्षा के लिए कदम उठाने के साथ-साथ प्रमुख क्षेत्रों, भीड़ और प्रदर्शनों से बचने की सलाह दी गई है. किसान यूनियन ने मंगलवार को कहा था कि संसद के मौजूदा मॉनसून सत्र के दौरान जंतर-मंतर पर एक ‘किसान संसद’ का आयोजन करेंगे और 22 जुलाई से प्रतिदिन सिंघू बॉर्डर से 200 प्रदर्शनकारी वहां पहुंचेंगे. किसान संगठन तीनों कानूनों को रद्द करने और एमएसपी पर कानून की गारंटी की मांग पर अड़े हुए हैं.

भीड़ और प्रदर्शन से बचने की सलाह दी

दूतावास ने बुधवार को जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा, ‘‘अमेरिकी दूतावास 21 और 22 जुलाई को किसानों द्वारा नई दिल्ली और उसके आसपास संभावित प्रदर्शनों की खबरों से अवगत है. पहले इस तरह के विरोध प्रदर्शनों में हिंसा हुई है.’’ इसमें कहा गया है कि दिल्ली और उसके आसपास सड़कों पर अधिक पुलिस, अतिरिक्त चौकियां और अज्ञात संख्या में प्रदर्शनकारी हो सकते हैं. इसने उन्हें संसद सहित महत्वपूर्ण क्षेत्रों, भीड़, प्रदर्शनों से बचने, अपनी व्यक्तिगत सुरक्षा योजनाओं की समीक्षा करने और कानून प्रवर्तन अधिकारियों के निर्देशों का पालन करने की सलाह दी.

13 अगस्त तक चलेगा ‘किसान संसद’

किसान नेताओं ने कहा है कि वे 22 जुलाई से मॉनसून सत्र समाप्त होने तक ‘किसान संसद’ आयोजित करेंगे और 200 प्रदर्शनकारी हर दिन जंतर-मंतर जाएंगे. संसद का मानसून सत्र सोमवार को शुरू हुआ था और 13 अगस्त को संपन्न होगा. 

गौरतलब है कि तीन नए कृषि कानूनों को निरस्त करने की किसान संगठनों की मांगों को उजागर करने के लिये 26 जनवरी को आयोजित ट्रैक्टर परेड राजधानी की सड़कों पर अराजक हो गई थी, क्योंकि हजारों प्रदर्शनकारियों ने बैरिकेड तोड़ दिये थे, पुलिस से भिड़ गए थे और लाल किले की प्राचीर पर एक धार्मिक ध्वज लहराया था.

Farmer Protest: छावनी में बदला जंतर-मंतर, दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने लिया जायजा, किसान लगाएंगे ‘किसान संसद’



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *