chhole 1623296827


सब्जी की ग्रेवी गाढ़ी करने के लिए लहसुन-प्याज की जरूरत पड़ती है लेकिन व्रत या नवरात्रि में प्याज-लहसुन नहीं खाया जाता। वहीं, कई घरों में प्याज के बिना सब्जी बनाई जाती है। बिना प्याज की सब्जी की ग्रेवी गाढ़ी नहीं बनती, जिससे कि खाने में स्वाद नहीं आता। ऐसे में आज हम आपको बता रहे हैं, कि बिना प्याज के इस्तेमाल के भी ग्रेवी कैसे गाढ़ी बनाई जा सकती है। 

 

– सब्जी की ग्रेवी को गाढ़ी करने के लिए गाढ़ी दही का इस्तेमाल किया जा सकता है। 
– टमाटर की ग्रेवी के साथ मूंगफली के पेस्ट को ग्रेवी के तौर पर डाला जा सकता है।
– मूंगफली नहीं है तो बादाम के पेस्ट से भी सब्जी को गाढ़ा और टेस्टी बनाया जा सकता है। 
– रेस्टोरेंट में सब्जी की ग्रेवी को गाढ़ी करने के लिए काजू का इस्तेमाल किया जाता है। पर इसे ज्यादा हेल्दी नहीं माना जाता है।
– सब्जी की तरी को गाढ़ा करने टमाटर की ग्रेवी के साथ आटा या मैदा डाला जा सकता है। पर इसे डालने से पहले हल्का-सा रोस्ट कर लें।
– तेल में आटे या मैदे को भूनने के बाद इसमें टमाटर की ग्रेवी डालकर गाढ़ा कर लें। बाद में इस ग्रेवी को सब्जी में डाल दें। 
– अगर सब्जी में प्याज को छोड़कर उसमें टमाटर और सही से इस्तेमाल किए गए मसाले डालें तो खाने का स्वाद बढ़ सकता है।
– प्याज और लहसुन की जगह तुरई/तोरी/गिलकी और गोभी को उबालकर तैयार की गई प्यूरी से भी सब्जी ज्यादा गाढ़ी और मजेदार बनाई जा सकती है। 
– गोभी या तोरी की तरह ही कद्दू या हरे पेठे को उबालकर तैयार की गई ग्रेवी से भी सब्जी का स्वाद बढ़ाया जा सकता है।
– सब्जी को गाढ़ा और टेस्टी बनाने के लिए दो चम्मच भुने हुए बेसन को पानी में फेंटकर सब्जी में डालने से ग्रेवी थिक हो जाती है।
– सूखे ब्रेड पीस को बारीक क्रश करके सब्जी में डालने से ग्रेवी गाढ़ी हो जाती है। 
– उबले हुए आलू को कद्दूकस करके सब्जी में डालने से भी ग्रेवी गाढ़ी हो जाती है।
– ग्रेवी को थिक करने के लिए टोमैटो प्यूरी का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। प्यूरी के साथ चाहें, तो गाजर या मूली को बारीक पीस सकते हैं।
– अदरक और शलजम के पेस्ट से भी बढ़िया ग्रेवी तैयार की जा सकती है। 
– अगर अनियन पेस्ट या पाउडर नहीं मिल रहा है, तो फिर इसके फ्लेक्स या जूस का इस्तेमाल सब्जी बनाने के लिए किया जा सकता है। यह भी मार्केट से आपको आसानी से मिल जाएंगे।

 

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *