neeraj chopra photo afp 1623555447


भारतीय खेल प्राधिकरण (साइ) ने शुक्रवार को बताया कि भाला फेंक खिलाड़ी नीरज चोपड़ा और पहलवान विनेश फोगाट टोक्यो ओलंपिक के लिए रवाना होने से पहले 25 जुलाई तक यूरोप में अपने-अपने स्थानों पर अभ्यास जारी रखेंगे। तेइस साल के चोपड़ा ने हाल में इंटरनेशनल सर्किट में जीत के साथ वापसी की थी। उन्होंने यूरोप के अभ्यास सह प्रतियोगिता दौरे पर लिस्बन में 83.16 मीटर की दूरी के साथ शीर्ष स्थान हासिल किया था।फोगाट (26 वर्ष) ने पोलैंड ओपन में इस महीने स्वर्ण पदक हासिल कर के ओलंपिक की अपनी अच्छी तैयारियों का सबूत दिया था। 
    
साइ की समीक्षा समिति ‘द मिशन ओलंपिक सेल (एमओसी) ने शुक्रवार को टोक्यो खेलों तक दोनों को विदेश में रहने के उनके संबंधित प्रस्तावों को मंजूरी दे दी। साइ से जारी विज्ञप्ति के मुताबिक, ‘पुर्तगाल में छह जून से रह रहे नीरज चोपड़ा के स्वीडन के उप्साला में उनके कोच डॉ क्लाउस बार्टोनिएट्स और फिजियोथेरेपिस्ट के साथ 21 जून से प्रशिक्षण शुरू करने के प्रस्ताव के लिए 34.87 लाख रुपये के खर्च को मंजूरी दे दी गई है।  विनेश फोगाट अप्रैल से यूरोप में है और उन्हें ओलंपिक के लिए रवाना होने से पहले वह अभ्यास करने की छूट दे दी गई है।’ 

उन्होंने आगे बताया, ‘इस प्रस्ताव में एस्टोनिया के टैलिन में 10-दिवसीय अभ्यास शिविर के बाद हंगरी के बुडापेस्ट में 16-दिवसीय शिविर शामिल है। अभ्यास में उनकी मदद के लिए कोच वोलर एकोस और फिजियोथेरेपिस्ट पूर्णिमा रमन नगोमंदिर उनके साथ रहेंगे। इसके लिए उनके 9.01 लाख रुपये की लागत से प्रस्ताव को स्वीकृत किया गया है।’ शीर्ष निकाय ने यह भी कहा, ‘सरकार ने प्रशिक्षण और प्रतियोगिता के वार्षिक कैलेंडर और टारगेट ओलंपिक पोडियम योजना (टॉप्स) के माध्यम से इस ओलंपिक चक्र में नीरज पर 1.61 करोड़ रुपये जबकि विनेश पर 1.81 करोड़ रुपये खर्च किए है।’

टोक्यो ओलंपिक 2020 के लिए भारतीय मेंस हॉकी टीम की घोषणा, 10 खिलाड़ी डेब्यू ओलंपिक खेलेंगे

रूस में अभ्यास कर रहे भारत के एक अन्य ओलंपिक टिकटधारी पहलवान बजरंग पुनिया के लिए अंडर -23 विश्व चैंपियन मिर्जा शुलुखिया की सेवाओं का लाभ उठाने की अनुमति दी गई है। साइ ने बताया, ‘एमओसी ने पुरुषों के 65 किग्रा फ्रीस्टाइल पहलवान बजरंग पुनिया को रूस के व्लादिकावकाज में अतिरिक्त स्पैरिंग पार्टनर (अभ्यास के लिए सहयोगी) के रूप में 70 किग्रा वर्ग में पुरुषों के अंडर -23 विश्व चैंपियन मिर्जा शुलुखिया को शामिल करने के प्रस्ताव को भी मंजूरी दे दी है।’
    
उन्होंने बताया कि वह पहले से ही 70 किग्रा के विश्व चैम्पियन (2019) डेविड बेव के साथ अभ्यास कर रहे हैं। उनके 2.53 लाख रुपये की लागत के नये प्रस्ताव को मंजूर कर लिया गया है। सरकार इस ओलंपिक चक्र में बजरंग पर अब तक 2.06 करोड़ रुपये खर्च कर चुकी है। पुनिया ने रूस में अभ्यास को तरजीह देते हुए हाल ही में पोलैंड में आयोजित रैंकिंग टूर्नामेंट में भाग नहीं लेने का फैसला किया था। 

Tokyo Olympic: डोपिंग के चलते वेटलिफ्टिंग इवेंट में हिस्सा नहीं ले पाएगा रोमानिया

संबंधित खबरें



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *