d793eab1c7a506883a963b1aa6d54917 original


अमेरिका में रोजगार के बेहतर आंकड़ों के बाद निवेशकों का रुझान शेयर और दूसरे जोखिम भरे निवेश की ओर बढ़ने के बाद इंटरनेशनल मार्केट  गोल्ड के दाम में गिरावट दर्ज की  गई. हालांकि कमजोर डॉलर और महंगाई के बढ़ते दबाव की वजह से यह गिरावट सीमित रही.

घरेलू मार्केट में गोल्ड और सिल्वर में गिरावट 

घरेलू मार्केट में एमसीएक्स में शुक्रवार को गोल्ड 0.40 फीसदी घट  कर 48,350 रुपये प्रति दस ग्राम पर पहुंच गया वहीं सिल्वर में 0.80 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई और यह 71,292 रुपये किलो पर पहुंच  गया. विश्लेषकों का मानना है कि एक महीने में गोल्ड के दाम 51 हजार रुपये प्रति दस ग्राम पर पहुंच सकता है. अगर गोल्ड 46 से 47 हजार के रेंज में रहता है तो इसमें खरीदारी की जा सकती है.

दिल्ली में भी गोल्ड के दाम गिरे 

 इस बीच, अहमदाबाद के स्पॉट मार्केट में गोल्ड 47569 रुपये प्रति दस ग्राम पर बिका. वहीं गोल्ड फ्यूचर 48561 रुपये प्रति दस ग्राम पर बिका.  गुरुवार को दिल्ली में गोल्ड में  416 रुपये की गिरावट आई थी और यह 48593 रुपये प्रति दस ग्राम पर पहुंच गया था. इसी तरह चांदी भी प्रति किलो 475 रुपये सस्ती होकर 71575 रुपये प्रति किलो पर पहुंच गई थी.

इंटरनेशनल मार्केट में गिरावट का दौर 

इंटरनेशनल मार्केट में गोल्ड में गिरावट का दौर चल रहा है. स्पॉट गोल्ड 0.2 फीसदी गिर कर 1872.21 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गया वहीं यूएस गोल्ड फ्यूचर 0.4 गिरा और 1873.70 डॉलर प्रति औंस पर बिका. हालांकि दुनिया के सबसे गोल्ड आधारित ईटीएफ एसपीडीआर गोल्ड ट्रस्ट की होल्डिंग 0.6 फीसदी बढ़ कर 1037.09 टन पर पहुंच गई. अमेरिकी अर्थव्यवस्था के बेहतर आंकड़ों के साथ ही गोल्ड में अभी और गिरावट देखने को मिल सकती है.  हालांकि भारत में गोल्ड में उतार-चढ़ाव का दौर जारी रहेगी. देश में फिलहाल फिजिकल गोल्ड की मांग में गिरावट दिख रही है. 

महंगाई पर लगाम लगाने की तैयारी, जानिए- खाद्य तेलों की कीमत एक साल में कितने बढ़ी है?

बांग्लादेश के मंत्री ने पेश की रिपोर्ट, कहा – प्रति व्यक्ति आय में हमारा देश भारत से आगे

 

 



Car Home Loan EMI:
Car Loan EMI Calculator

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *