ccsu meerut 1619967119


CCSU Exam 2021 : चौ.चरण सिंह विश्वविद्यालय में स्नातक रेगुलर-प्राइवेट और पीजी प्राइवेट की मुख्य परीक्षाओं को लेकर लाखों छात्र-छात्राओं को परेशान होने की जरुरत नहीं है। जल्द ही शासन परीक्षाओं पर निर्णय करने जा रहा है। कुलपतियों की तीन सदस्यीय समिति शासन को अपनी सिफारिश दे चुकी है। केवल इस पर सरकार को अंतिम निर्णय लेना है। जून के दूसरे हफ्ते तक हर हाल में परीक्षा और प्रमोशन की तसवीर साफ हो जाएगी। छात्र थोड़ा सा इंतजार करें और धैर्य रखें।

यह है चिंता :
-परीक्षा होगी या नहीं।
-होगी तो किन कक्षाओं की।
-प्रमोशन मिला तो किसको मिलेगा।
-फाइनल के पेपर कैसे होंगे।
-रिजल्ट कैसे जारी होगा। नंबर कैसे मिलेंगे।

परीक्षाओं की तैयारी:
कोरोना संक्रमण के चलते परीक्षा पर निर्णय को शासन ने विभिन्न विश्वविद्यालय के कुलपतियों की तीन सदस्यीय समिति बनाई थी। समिति अपनी रिपोर्ट दे चुकी है। समिति ने केवल फाइनल इयर की परीक्षा कराने की सिफारिश की है। फाइनल इयर के पेपर कैसे होंगे, इसका निर्णय संबंधित विश्वविद्यालय करेगा। अंतिम वर्ष को छोड़ बाकी वर्षों में प्रमोशन की सिफारिश की गई है। द्वितीय वर्ष के छात्र चूंकि दो प्रमोशन पाएंगे, ऐसे में उनकी अगले वर्ष फाइनल के साथ द्वितीय वर्ष के परीक्षा कराने की सिफारिश की गई है। समिति की रिपोर्ट शासन में विचाराधीन है। इस पर जल्द निर्णय होने जा रहा है।

समय कितना लगेगा
चौ.चरण सिंह विश्वविद्यालय की तैयारी पूरी हैं। केवल शासन के निर्देशों का इंतजार है। समिति की सिफारिश पर संस्तुति के बाद आगे की कार्रवाई का शासनादेश आएगा। इसी से प्रमोशन एवं परीक्षा पर कार्रवाई शुरू करेगा। प्रमोशन के लिए विश्वविद्यालय स्तर पर भी समिति बनेगी जो विभिन्न स्थितियों के अनुसार कार्रवाई करेगी। फाइनल की परीक्षा कैसे और कितने घंटे की होगी, यह परीक्षा समिति तय करेगी। जून में इन सभी पर निर्णय हो जाएगा। विश्वविद्यालय प्रमोशन के आधार पर रिजल्ट जून के आखिरी और जुलाई के पहले हफ्ते तक जारी कर देगा। इसी आधार पर अगली कक्षाओं में प्रवेश शुरू होंगे। फाइनल की परीक्षाएं जुलाई-अगस्त में संभव हैं।

आंकड़ों में विश्वविद्यालय परीक्षा

  • -कुल 3.75 लाख स्टूडेंट पर लागू होगा निर्णय।
  • -2.68 लाख छात्र प्रमोशन के दायरे में रहेंगे।
  • -एक लाख छह हजार 904 को पेपर देने होंगे।
  • -सेमेस्टर में केवल फाइनल सेमेस्टर में ही पेपर संभव।

2020 बनाम 2021
2020 में भी विश्वविद्यालय में कोरोना के चलते केवल फाइनल इयर के ही पेपर हो सके थे। इस बार यही तैयारी है। बाकी वर्षों में विश्वविद्यालय कुछ पेपर करा चुका था, ऐसे में उनके प्राप्तांक भी प्रमोशन का आधार बने थे। इस बार यह स्थिति नहीं है। केवल दो पेपर ही विश्वविद्यालय में हुए हैं। अधिकांश कक्षा में एक भी पेपर नहीं हुआ। ऐसे प्रथम वर्ष को सीधे प्रमोशन मिलेगा। नंबर आधार नहीं होगा। द्वितीय वर्ष के छात्र भी प्रमोशन पा जाएंगे। स्थितियां बदलने से इस बार यूजी प्रथम-द्वितीय एवं पीजी प्रथम वर्ष में सभी स्टूडेंट प्रमोट हो जाएंगे।

अफवाहों से बचें, ऐसे रहें अपडेट
परीक्षा को लेकर सोशल मीडिया पर तमाम तरह की खबरें प्रसारित हो रही हैं। इन पर ध्यान न दें। शासन और विश्वविद्यालय स्तर पर अभी कोई भी अंतिम निर्णय नहीं हुआ। परीक्षा और प्रमोशन को लेकर जो भी निर्णय होगा, उसकी सूचना www.ccsuniversity.ac.in पर जारी होगी। प्रदेश सरकार के टि्वटर हैंडल पर शासन का निर्णय जारी होगी, लेकिन पूरी जानकारी शासनादेश से आएगी। निर्णय विभिन्न समाचार पत्रों में भी प्रकाशित होंगे। ऐसे में इनके संपर्क में रहें।



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *