cm hemant soren jpg 1621785150


CBSE Board Exams : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा है कि उन्होंने सीबीएसई 12वीं बोर्ड की परीक्षा, प्रोफेशनल कोर्सेज एवं अन्य एंट्रेंस परीक्षाओं के आयोजन को लेकर राज्यवासियों से सुझाव मांगे हैं। ट्विटर और सोशल मीडिया के अन्य माध्यमों से अधिकांश लोगों का कहना है कि परीक्षा फिलहाल स्थगित होनी चाहिए। राज्य में कई बच्चे संक्रमित हुए हैं और वे अभी स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान हालात में अगर परीक्षा आयोजित होती है तो संक्रमण के फैलाव की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता। ऑनलाइन परीक्षा लेने की भी बात की गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कई बच्चों ने कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के दौरान अपने परिजनों को खोया है। ऐसे बच्चे एवं परिवार इस समय मानसिक तनाव से गुजर रहे हैं। वर्तमान स्थिति में परीक्षा आयोजित करना उचित नहीं होगा।

उपरोक्त बातें मुख्यमंत्री ने अपने आवासीय कार्यालय से केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय) की ओर से 12वीं बोर्ड की परीक्षा, प्रोफेशनल कोर्सेज एवं एंड एंट्रेंस परीक्षाओं के आयोजन को लेकर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए रविवार को हुई बैठक के दौरान कही। मुख्यमंत्री ने बैठक में अपने सुझाव रखें। उन्होंने कहा कि केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा आयोजित यह बैठक महत्वपूर्ण है। केंद्र सरकार द्वारा आगामी परीक्षाओं के आयोजन को लेकर चिंतन किया जा रहा है यह सराहनीय पहल है। बैठक में जो सुझाव मिले हैं इसमें कई सुझाव काफी महत्वपूर्ण है। जैसे परीक्षा के समय को कम करना, सब्जेक्ट में बदलाव, होम सेंटर इत्यादि ये सभी सुझाव निश्चित रूप से काफी चीजों को ध्यान में रखकर दिये गये हैं। केंद्र के साथ राज्य बोर्ड की परीक्षा भी जुड़ी है।
सुझावों का निष्कर्ष फिलहाल न हो परीक्षा

मुख्यमंत्री ने कहा कि निरंतर मिल रहे सुझावों का निष्कर्ष निकाला जाये तो फिलहाल परीक्षा नहीं आयोजित करने की बात पर सहमति नजर आ रही है। कुछ लोगों का कहना है अगर परीक्षा आयोजित हुई तो सामाजिक दूरी का पालन नहीं होगा और बच्चे संक्रमित हो सकते हैं। मुख्यमंत्री ने अपनी बातों को रखते हुए सुझाव दिया कि आगामी सभी परीक्षाओं की तारीख कोरोना संक्रमण का प्रभाव कम या नियंत्रित होने के बाद ही तय की जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि शहर के बाद अब धीरे-धीरे गांव की ओर संक्रमण अपना पैर पसार रहा है। वर्तमान समय में विभिन्न राज्यों में लॉकडाउन या आंशिक लॉकडाउन लगा हुआ है। तत्काल परीक्षायें आयोजित होने से व्यवस्था पर भी असर पड़ेगा। इसलिए संक्रमण घटने के बाद ही परीक्षाओं की तारीख निर्धारित की जाए। मुख्यमंत्री ने अपने विस्तृत सुझाव लिखित रूप से दो दिनों के भीतर केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय) को प्रेषित किए जाने की बात कही।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए आयोजित बैठक में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति जुबिन ईरानी, केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर, गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत, उप मुख्यमंत्री दिल्ली, उप मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश, विभिन्न राज्यों के शिक्षा मंत्री, केंद्रीय शिक्षा सचिव सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे। वहीं मुख्यमंत्री आवासीय कार्यालय रांची से राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता, मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, विकास आयुक्त अरुण कुमार सिंह, अपर मुख्य सचिव केके खंडेलवाल सहित अन्य वरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

संबंधित खबरें



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *