a12c1718054d15774802587fd45dd45a original


अमेरिकी अरबपति वॉरेन बफेट (Warren Buffet) की गिनती दुनिया के सबसे सफल निवेशकों में की जाती है. शेयर बाजार में निवेश कर कामायाबी का इतिहास रचने वाले बफेट लगातार दुनिया के सबसे अमीर लोगों में जगह बनाए हुए हैं. लोग अक्सर बफेट की सफलता के कारणों पर चर्चा करते हैं. सभी यह मानते हैं कि उनकी कामयाबी के पीछे उनकी निवेश रणनीति है. आज हम आपको उनकी इस रणनीतिक की कुछ खास बातें बताने जा रहे हैं.   

बिजनेस की क्वॉलिटी देखकर निवेश करें
वॉरेन बफेट मानते हैं कि एक अच्छी कंपनी के शेयर शानदार कीमत पर खरीदने से अच्छा है, एक शानदार कंपनी के शेयर वाजिब कीमत पर खरीदे जाएं. दरअसल लोग बड़ी कंपनियों में निवेश करने की कोशिश में रहते हैं लेकिन यह नीति हर बार सही साबित नहीं होती. हो सकता है कि कोई नई कंपनी ऐसी हो जो कि बहुत अच्छी क्वालिटी के प्रोडेक्ट बना रही है या कस्टमर्स को बेहतरीन सर्विस उपलब्ध करा रही हो, तो ऐसी कंपनी में निवेश किया जा सकता है. अच्छी नई कंपनियों के शेयर ज्यादा तेजी से बढ़ते हैं जबकि कई बार बड़ी कंपनियों के शेयर में ज्यादा उछाल नहीं आ सकता.

बिना पूरी जानकारी कहीं पैसा न लगाएं
आप जहां भी पैसे लगाने वाले हैं उसके बारे में पूरी जानकारी हासिल करें. आपके सामने निवेश की ऐसी योजनाएं भी पेश की जा सकती हैं जिनमें मुनाफे के बड़े-बड़े वादे किए गए हों. इसलिए बेहद सावधानी बरतें. हर दावे की सच्चाई जानें. अगर कोई योजना आपको समझ नहीं आ रही है तो उसमें पैसा न लगाएं.

लंबे समय के लिए करें निवेश
शेयर में निवेश करने के बाद शेयर बेचने में जल्दबाजी न करें. अच्छी कंपनियों के स्टॉक खरीदें और फिर उनमें निवेश लंबे समय तक बनाए रखें. शेयर मार्केट में लॉन्ग टर्म निवेश आखिरकार ज्यादा मुनाफा देता है लेकिन यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप सही कंपनियों का चुनाव करें.

शेयर बाजार में रातों रात अमीर बनने के लिए नहीं आए
शेयर बाजार कोई ऐसी जगह नहीं है कि जहां आपने पैसा लगाया और कामयाबी ने आपके कदम चूम लिए. इसमें कामयाबी पाने के लिए आपको काफी मेहनत और सावधानी से काम करना होगा. अच्छी कंपनियों का चुनाव बहुत अहम है. इसके साथ ही अच्छा इनवेस्टमेंट पोर्टफोलियो तैयार करना एक लंबी प्रक्रिया है. बेहतर रिटर्न के लिए ऐसी कंपनियों में निवेश करें, जिनका बिजनेस मॉडल के साथ ही साथ मैनेजमेंट भी अच्छा हो.

शेयर की मार्केट प्राइस और वैल्यू के अंतर को याद रखें
शेयर की मौजूदा मार्केट प्राइस और उसकी वास्तविक वैल्यू दो अलग-अलग चीजें हैं. शेयर की कीमत बाजार में हर पल बदलती रहती है. कई बार किसी शेयर की प्राइस और उसकी सही वैल्यू में कोई मेल नहीं होता. शेयर प्राइस की जगह अपने निवेश के मूल्य पर गौर करना चाहिए.

यह भी पढ़ें: IT कंपनी Cognizant इस साल भारत में 28 हजार फ्रेशर्स को करेगी हायर



Car Home Loan EMI:
Car Loan EMI Calculator

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *