tokyo olympic photo hindustan times 1599361591


जापान की कुल 59 प्रतिशत आबादी टोक्यो में कोरोना महामारी के प्रकोप के कारण आगामी टोक्यो ओलंपिक खेलों को रद्द किए जाने के पक्ष में है। जापान के नेशनल समाचार पत्र योमिउरी शिंबुन ने व्यक्तिगत तौर पर कराए ताजा सर्वे के आधार पर सोमवार को यह दावा किया है। देश भर में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप के चलते सात से नौ मई के बीच यह सर्वे कराया गया था।

कोरोना राहत कोष के लिए विश्वनाथन आनंद ऐसे जुटाएंगे फंड 

इसके मुताबिक जापान के छह प्रांतों के 64 फीसदी लोग ओलंपिक खेलों को रद्द करने के पक्ष में हैं, जबकि अन्य 41 प्रान्तों में यह औसत 57 फीसदी है। 23 फीसदी लोग चाहते हैं कि खेलों का आयोजन हो, लेकिन उनका मानना है कि दर्शकों के बिना आयोजन होना चाहिए, जबकि 16 फीसदी लोग चाहते हैं कि सीमित संख्या में दर्शकों की मौजूदगी में खेलों का आयोजन हो।

IOC अध्यक्ष थॉमस बाक ने कोविड-19 मामलों के कारण रद्द किया जापान दौरा

मूल रूप से टोक्यो ओलंपिक खेलों का आयोजन 2020 में होना था, लेकिन कोरोना महामारी के कारण इसे स्थगित कर दिया गया था। अब इस गर्मियों में 23 जुलाई से आठ अगस्त तक खेलों का आयोजन होना है। उल्लेखनीय है कि गंभीर और खतरनाक हालात के मद्देनजर टोक्यो, ओसाका, क्योटो और ह्योगो प्रांत में 31 मई तक आपातकाल लगा रहेगा। इसके अलावा आइची और फुकुओका में भी आपातकाल लगाया गया है।
 



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *