teeth3


शरीर के हर अंग का स्वस्थ रहना आपके लिए जरूरी है. लेकिन कई बार हम शरीर के बाकी अंगों के मुकाबले अपने मुंह के स्वास्थ्य पर इतना ध्यान नहीं देते जितना देना चाहिए. आमतौर पर हम ब्रश करने भर को मुंह की सफाई मान लेते हैं. लेकिन अगर आपने अपनी जीभ को साफ नहीं किया तो आपको कई परेशानियां हो सकती हैं. जीभ के गंदे रहने से मुंह में चिपचिपाहट हो सकती है, सांस से बदबू आ सकती है, जीभ का रंग बदलकर काला या पीला हो सकता है.

खराब जीवनशैली आपकी जीभ का रंग बदलकर काला बना सकती है. आमतौर पर जीभ की सतह पर केराटिन नाम का प्रोटीन बनने लगता है. जिससे जीभ का रंग काला होने लगता है. हालांकि ये काफी रेयर है. लेकिन कई गंदी आदतों की वजह से आपकी जीभ का रंग काला पड़ सकता है. अगर आप सही से मुंह साफ नहीं करते, रूटीन में डेंटल चेकअप नहीं कराते, हेल्दी चीजें नहीं खाते और स्मोक करते हैं तो आपकी टंग का कलर बदल सकता है. आइए जानते हैं कि जीभ का रंग काला होने की वजह और उपाय क्या हैं.

जीभ का रंग काला होने का क्या मतलब है?
जीभ का रंग काला होने का मतलब है गले में बैक्टीरिया है या फंगस इसकी वजह हो सकता है. हालांकि जीभ का रंग काला हो जाना कोई बहुत परेशानी की बात नहीं है. आप इसे खुद भी सही कर सकते हैं. काली जीभ की एक और वजह है जीभ की त्वचा का केराटिन नाम के प्रोटीन से कवर होना. कभी-कभी केराटिन जीभ पर जम जाता है. जिससे आपकी जीभ काली पड़ सकती है. डॉक्टर इसे काले बालों वाली जीभ कहते हैं. 

जीभ का काला पड़ने के लक्षण
जीभ का रंग काला होने की कई वजह हैं. जिसकी वजह से इसके अलग-अलग लक्षण हो सकते हैं. काली जीभ का रंग हमेशा काला हो ये जरूरी नहीं है. वैसे जीभ के काला होने के शुरुआती लक्षण ये हैं कि आपकी जीभ पर लंबे, थ्रेड बनने लगते हैं. जिसकी वजह से जीभ पर काले बाल जैसे दिखाई देते हैं. लोगों को काली जीभ होने पर ये लक्षण महसूस होते हैं. 

1- जीभ का रंग बदलने लगता है. जिसकी वजह से जीभ काली, सफेद या पीले रंग की हो जाती है. 
2- कई बार जीभ चिपचिपाने लगती है. हालांकि जीभ का रंग बदले ये जरूरी नहीं है.
3- कई बार मुहं में जलन होने लगती है.
4- मुंह का स्वाद खराब हो जाता है.
5- जीभ के काला होने पर सांस लेने में बदबू आने लगती है.

इन आदतों की वजह से जीभ हो जाती है काली

⦁ अगर आप अपने मुंह की साफ सफाई सही से नहीं करते जैसे नियमित रूप से ब्रश करना और जीभ साफ करना, तो आपकी जीभ का रंग काला हो सकता है 
⦁ तंबाकू और सिगरेट पीने से भी जीभ और दांतों की बीमारियां हो जाती हैं. धूम्रपान से आपकी जीभ का रंग काला हो सकता है.
⦁ ज्यादा कॉफी पीने से भी जीभ का रंग काला हो जाता है.
⦁ लगातार ब्लैक टी पीने से भी जीभ का रंग काला हो जाता है.
⦁ अगर आप अपने खाने का ख्याल नहीं रखते. सही डाइट नहीं लेते हो आपकी जीभ काली हो सकती है. 

काली जीभ को सही करने का घरेलू नुस्खा 

अगर आपकी जीभ का रंग काला होता है तो आपको मुंह के स्वास्थ को लेकर सतर्क हो जाना चाहिए. हालांकि जीभ की काला होना इतना नुकसानदेय नहीं है लेकिन आपके बात करते वक्त मुंह से आ रही बदबू आपको शर्मिंदा कर सकती है.

1- सबसे पहले आपको नियमित रूप से फ्लोराइड वाले टूथपेस्ट से ब्रश करना चाहिए. 
2- जीभ की ऊपरी सतह से बैक्टीरिया और गंदगी को हटाने के लिए नियमित जीभी से जीभ को साफ करें.
3- मुंह से आने वाली बदबू दूर करने के लिए गर्म पानी में नमक डालकर कुल्ला जरूर करें.
4- हर बार खाने के बाद ब्रश करें और जीभ को भी साफ जरूर करें. रात को भी ब्रश करना ना भूलें. 
5- जीभ पर बेकिंग सोडा या हाइड्रोजन पेरोक्साइड लगाएं
6- भरपूर मात्रा में पानी पिएं और पेट साफ रखें.
7- ज्यादा से ज्यादा कच्चे फल और सब्जियां खाएं.

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *