bc569728e18dca487bfc7d757a5f0b9b original



<p style="text-align: justify;">इजरायली सेना के हवाई हमले में शनिवार को गाजा सिटी स्थित एक बहुमंजिला इमारत ध्वस्त हो गई, जिसमें स्थित एसोसिएटेड प्रेस और अन्य मीडिया संस्थानों के कार्यालय थे. इजरायली सेना के इस हालिया कदम को चरमपंथी संगठन हमास के साथ जारी उसकी लड़ाई के संबंध में गाजा की जमीनी स्तर की सूचनाओं को सामने लाने से रोकने के प्रयास के तौर पर देखा जा रहा है.</p>
<p style="text-align: justify;">सेना द्वारा इमारत को खाली करने का आदेश दिए जाने के एक घंटे बाद ही यह हमला हुआ. इस इमारत में रिहायशी अपार्टमेंट होने के साथ ही एपी, अल-जजीरा समेत अन्य संस्थानों के दफ्तर थे.&nbsp;इस हमले से 12 मंजिला इमारत जमींदोज हो गई और चारों तरफ धूल का गुबार छा गया. इस बारे में तत्काल कोई स्पष्टीकरण सामने नहीं आया कि इस इमारत को निशाना क्यों बनाया गया?</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>किया सीधा प्रसारण</strong></p>
<p style="text-align: justify;">मीडिया संस्थानों के कार्यालय जिस इमारत में थे, उस पर दोपहर को हुए हमले से पहले इजरायली सेना ने इमारत के मलिक को फोन कर इसे निशाना बनाए जाने की चेतावनी दी थी. इसके बाद एपी के कर्मचारी एवं अन्य लोगों ने तत्काल इमारत को खाली किया. कतर सरकार के जरिए वित्तपोषित अल-जजीरा न्यूज़ नेटवर्क ने इमारत पर हुए हमले और इसके जमींदोज होने का सीधा प्रसारण किया.</p>
<p style="text-align: justify;">इस हमले से पहले गाजा सिटी में शनिवार तड़के इजरायल के हवाई हमले में कम से कम 10 फिलिस्तीनियों की मौत हो गई, जिनमें अधिकांश बच्चे थे. गाजा के उग्रवादी हमास शासकों के साथ लड़ाई शुरू होने के बाद से इजरायल के एक हमले में मरने वाले लोगों की यह सबसे अधिक संख्या है.</p>
<p style="text-align: justify;">पिछले महीने यरुशलम में तनाव से शुरू हुआ यह संघर्ष व्यापक पैमाने पर फैल गया है. अरब और यहूदियों की मिश्रित आबादी वाले इजरायली शहरों में रोज हिंसा देखी जा रही है. इजरायल और हमास के बीच जारी लड़ाई के दौरान वेस्ट बैंक में भी फिलिस्तीनियों ने व्यापक पैमाने पर प्रदर्शन किया और सैकड़ों प्रदर्शनकारियों ने कई शहरों में इजरायली सेना के साथ झड़प की. इस दौरान इजरायली सेना की कार्रवाई में कम से कम 11 लोग मारे गए.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>नकबा दिवस</strong></p>
<p style="text-align: justify;">यह हिंसा ऐसे वक्त में हो रही है जब फिलिस्तीन शनिवार को &lsquo;नकबा दिवस&rsquo; मना रहे हैं जब वे 1948 के युद्ध में इजरायल द्वारा मारे गए हजारों फिलिस्तीनियों को याद करता है. इससे संघर्ष के और तेज होने की आशंका बढ़ गई है. इजरायल-फिलिस्तीन मामलों के लिए अमेरिका के उप सहायक विदेश मंत्री हादी आम्र संघर्ष को कम करने की कोशिश के तौर पर शुक्रवार को इजरायल पहुंचे.</p>
<p style="text-align: justify;">हालांकि, मिस्र के एक खुफिया अधिकारी ने बताया कि इजरायल ने एक साल के संघर्ष विराम के उसके प्रस्ताव को ठुकरा दिया है जिसे हमास ने स्वीकार कर लिया था. सोमवार की रात से लेकर अब तक हमास ने इजरायल में सैकड़ों रॉकेट दागे हैं. गाजा में कम से कम 139 लोगों की मौत हो गई है, जिनमें 39 बच्चे और 22 महिलाएं शामिल हैं. इजरायल में आठ लोगों की मौत हो गई है, जिनमें शनिवार को तेल अवीव के उपनगर रमात गान में रॉकेट हमले में जान गंवाने वाला व्यक्ति भी शामिल है.</p>



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *