wheat flour 1620973743


गर्मियों में सबसे बड़ी परेशानी होती है कि चेहरा बहुत ऑयली हो जाता है। चेहरे पर एक्सट्रा ऑयल निकलने की वजह से पिम्पल होने का खतरा रहता है। ऐसे में अगर गर्मियों में पिम्पल्स हो जाते हैं, तो ठीक होने के बाद भी चेहरे पर पिम्पल्स के निशान पड़ जाते हैं। आज हम आपको इन स्किन प्रॉब्लम्स से छुटकारा पाने के लिए आटे से बने घरेलू फेस मास्क के बारे में बता रहे हैं। 

 

ऑयली स्किन 
अगर आपकी स्किन ऑयली है तो इस स्पेोशल फेस पैक को ट्राई करें। 3 बड़ा चम्मेच दूध उबालें और इसमें 2 बड़ा चम्मेच शहद और 2 बड़ा चम्मीच गुलाब जल मिलाएं। इसमें 4 बड़ा चम्मच आटा मिलाएं और गांठ से बचाने के लिए अच्छेम से ब्लेंड करें। इसे ठंडा होने दें और फिर अपने पूरे चेहरे पर लगाएं। इसे अपने आप ड्राई होने दें और फिर इसे धो लें। इस फेस पैक से आपकी स्किन कुछ ही दिनों में स्मू थ और ऑयल फ्री हो जाएगी।

 

फ्रेशनेस के लिए 
इस ब्यूटी फेस पैक के लिए, आपको कच्चे दूध और चोकर वाले आटे की जरूरत होगी। फिर इसमें थोड़ी सी हल्दीप मिलाकर अच्छे  से गाढ़ा पेस्टर बना लें। इसे चेहरे पर लगाकर सूखने के लिए छोड़ दें। स्किन को एक्सफोलिएट करने के लिए इसे हटाते समय अपने चेहरे को थोड़ा स्क्रब करें और फ्रेश स्किन पाएं।

 

 

एक्ने वाली स्किन 
इस नेचुरल होममेड मास्कक से आप अपनी स्किन के दाग-धब्बों  को दूर कर सकती हैं। इस फेस पैक को बनाने के लिए एक बाउल में 2 से 3 बड़े चम्म च मलाई में 1 से 2 बड़े चम्मचच आटा मिलाकर अच्छे  से मिक्स  कर लें। फिर चेहरे को धोकर ड्राई कर लें। इस मलाई आटा फेस पैक को समान रूप से चेहरे पर लगाएं और सूखने दें। कुछ टाइम के बाद इसे धो लें। साफ और ग्लोमइंग स्किन पाने के लिए इस पैक को रेगुलर लगाएं।

 

सनबर्न या टैनिंग 
अगर आपको त्वचा में जलन या सनबर्न है, तो अपने चेहरे की केयर आटे से करें। जी हां आटा फेस पैक सनबर्न को दूर करने में भी आपकी हेल्पो करता है। इसके लिए गुलाब की पंखुड़ियों और संतरे के छिलकों को पानी में उबालें। थोड़ा दूध गर्म करें और इसमें शहद मिलाएं। उबले हुए दूध में गुलाब की पंखुड़ियों और संतरे के छिलकों का पानी मिलाएं। इसमें आटा मिलाकर एक गाढ़ा पैक बना लें। अपना चेहरा साफ करें और पैक लगाएं। इसे 20 मिनट तक रखें और फिर साफ कर लें।
 

संबंधित खबरें

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *