c82aee4caf65dbf908179cfebc99df52 original



<div style="text-align: justify;">लगातार बढ़ रहे कोरोना के मामलों के चलते देश भर के अस्पतालों की स्वास्थ्य सेवाएं चरमराने की कगार पर हैं. राजधानी दिल्ली में भी रोजाना कोरोना के <span style="font-family: -apple-system, BlinkMacSystemFont, ‘Segoe UI’, Roboto, Oxygen, Ubuntu, Cantarell, ‘Open Sans’, ‘Helvetica Neue’, sans-serif;">रिकॉर्ड</span><span class="s1" style="font-family: -apple-system, BlinkMacSystemFont, ‘Segoe UI’, Roboto, Oxygen, Ubuntu, Cantarell, ‘Open Sans’, ‘Helvetica Neue’, sans-serif;"> मामले सामने आ रहे हैं और यहां के अस्पतालों में मरीजों की भरमार हो गयी है. कोरोना के मरीजों को भर्ती होने के लिए घंटों इंतजार करना पड़ रहा है. </span>दिल्ली के लोक नायक जयप्रकाश अस्पताल के बाहर से भी एक इसी तरह का मामला सामने आया है जहां कोरोनावायरस का एक पॉजिटिव मरीज स्कूटर पर बैठे भर्ती होने का इंतजार कर रहा है.</div>
<div style="text-align: justify;">&nbsp;</div>
<div style="text-align: justify;">मंडावली के रहने वाले दीपक की कोरोनावायरस की रिपोर्ट कल शाम पॉजिटिव आई थी लेकिन सुबह अचानक सांस लेने में तकलीफ होने लगी जिसके बाद उनका भाई उन्हें स्कूटर पर ही अस्पताल लेकर आया. मरीज के भाई दिनेश सिंह एबीपी न्यूज से बातचीत के दौरान कहते हैं कि, "मेरा भाई पॉजिटिव है लेकिन अस्पताल द्वारा कहा जा रहा है कि फिलहाल बेड नहीं है. इनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. हम लोग करीब दो घंटे से इंतजार कर रहे हैं. कब एडमिट होंगे इसकी भी जानकारी नहीं है. मेरे भाई की तबियत खराब होती जा रही है, उन्हे सांस लेने में भी तकलीफ हो रही है."</div>
<div style="text-align: justify;">&nbsp;</div>
<div style="text-align: justify;">कोरोनावायरस के पॉजिटिव पेशेंट का अस्पताल के बाहर इस तरह बैठे रहना यहां मौजूद उन तमाम लोगों के लिए खतरे से खाली नहीं है जो अपने रिश्तेदार की खैर खबर लेने पहुंचे हैं. आस पास मौजूद लोगों के लिए ये संक्रमण का कितना बड़ा खतरा है इसकी कल्पना दिल्ली में हर रोज तेज रफ्तार से बढ़ रहे आंकड़ों से की जा सकती है.&nbsp;</div>
<div style="text-align: justify;">&nbsp;</div>
<div style="text-align: justify;"><strong>दिल्ली में हो रही है ICU बेड्स और ऑक्सीजन की कमी&nbsp;</strong></div>
<div style="text-align: justify;">&nbsp;</div>
<div style="text-align: justify;">दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज के हालातों पर ताजा अपडेट जारी करते हुए जानकारी दी और बताया कि दिल्ली में कोरोनेवायरस के 25, 500 से ज्यादा केस आए हैं और वहीं बीते 24 घंटे में 24 हजार केस सामने आए थे और 160 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी. सीएम के अनुसार आज 30 प्रतिशत पॉजिटिव रेट हो गया है जो कि पिछले 24 घंटे में 23 प्रतिशत था.&nbsp;</div>
<div style="text-align: justify;">&nbsp;</div>
<div style="text-align: justify;">दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने स्वीकार किया कि दिल्ली में ICU बेड्स और ऑक्सीजन की तेजी से कमी हो रही है. उन्होंने कहा, " दिल्ली में 100 से भी कम आईसीयू बेड रह गए हैं।&nbsp; आज मेरी केंद्रीय स्वास्थ मंत्री हर्षवर्धन जी और गृह मंत्री अमित शाह जी से बात हुई और मैंने उन्हें बताया कि हमारे पास ऑक्सीजन और आईसीयू बेड्स की कमी हो रही है. हम कई अस्पतालों में हाई फ्लो ऑक्सीजन का इंतजार कर रहे हैं."</div>
<div style="text-align: justify;">&nbsp;</div>
<div style="text-align: justify;"><strong>यह भी पढ़ें&nbsp;</strong></div>
<div style="text-align: justify;">&nbsp;</div>
<div style="text-align: justify;"><strong style="font-family: -apple-system, BlinkMacSystemFont, ‘Segoe UI’, Roboto, Oxygen, Ubuntu, Cantarell, ‘Open Sans’, ‘Helvetica Neue’, sans-serif;"><a href="https://www.abplive.com/news/india/up-sunday-lockdown-live-updates-yogi-adityanath-uttar-pradesh-government-ordered-complete-lockdown-rising-corona-cases-1902869">UP Lockdown LIVE Updates: कोविड लॉकडाउन का पालन कराने में जुटी पुलिस, सैनिटाइजेशन का काम जारी</a></strong></div>
<div style="text-align: justify;">&nbsp;</div>
<div style="text-align: justify;"><strong style="font-family: -apple-system, BlinkMacSystemFont, ‘Segoe UI’, Roboto, Oxygen, Ubuntu, Cantarell, ‘Open Sans’, ‘Helvetica Neue’, sans-serif;"><a href="https://www.abplive.com/states/up-uk/night-curfew-time-extended-in-all-districts-in-uttarakhand-1902863">उत्तराखंड: सभी जिलों में बढ़ा नाइट कर्फ्यू का समय, जानें क्या है समय और क्या रहेगा खुला</a></strong></div>



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *