f25b2ecffe1e9b6b04ce8d948d6f7897 original


भारत में कोरोना वायरस के मामलों लागातार बढ़ रहे हैं. कोरोना के बढ़ते मामलों से कई राज्यों का हेल्थकेयर सिस्टम चरमराने लगा है. पिछले वर्ष कोरोनावायरस की पहली लहर ने भी हमें बहुत नुकसान पहुंचाया था, तो यह वायरस के कई लक्षणों सामाने आए थे. 

वायरस के नए वेरिएंट्स ने चिंता बढ़ाई है. विशेषज्ञों के अनुसार वायरस बहुत स्ट्रॉन्ग हो गया है और अधिक संक्रामक है, जो मामलों में वृद्धि का कारण बन रहा है. इसलिए इस तरह के समय में महत्वपूर्ण है कि हम कोविड एप्रोप्रिएय बिहेवियर का पालन करें और लक्षणों  पहचाने. कोविड-19 से पीड़ित लोगों में अलग-अलग लक्षण हो सकते हैं लेकिन इनमें से ज्यादातर वही होते हैं जो पॉजिटिव केसेज में देखे जा रहे है.

 स्मैल और टेस्ट नहीं आना 
स्माल का लॉस सबसे अस्पष्ट है और शायद लोगों को कोविड -19 के साथ सबसे अजीब लक्षण दिखाई दे रहे हैं. एनोस्मिया इस बात का सूचक बन गया है कि कोरोना वायरस कितना गंभीर हो सकता है. कुछ के लिए यह बुखार से पहले हो सकता है या कोविड का एकमात्र लक्षण हो सकता है. यह ठीक होने में लंबा समय लेता है. डायग्नोस होने के बाद छह से सात सप्ताह का समय यह ठीक होने में लेता है. 

गले में खराश
गले में खुजली, कुछ सूजन होना गले में खराश का संकेत हो सकता है. यह कोविड-19 संक्रमण में सबसे अधिक एक्सीपीरियंस लक्षणों में से एक है, जो वैश्विक स्तर पर 52 फीसदी से अधिक मामलों में देखा जाता है.गले में खराश ऐसे महसूस होती है कि आपका गला वास्तव में दर्द करता है. कुछ को हल्की जलन या खुजली की अनुभव होती है, जो भोजन या पानी निगलने ज्यादा हो सकती है. 

थकान होना
खांसी और गले में खराश के अलावा यूके के विशेषज्ञों ने देखा है कि बहुत से कोविड रोगी अब संक्रमण के प्रारंभिक संकेत के रूप में वीकनेस की रिपोर्ट कर रहे हैं. किसी भी वायरल संक्रमण में थकान एक सामान्य संकेत है, जबकि कोविड  मामलों में, इससे निपटना बहुत कठिन हो सकता है. चूंकि कोविड  एक स्टैंडअलोन संक्रमण के रूप में कई लक्षणों लेकर आता है और थकावट भी अक्सर उसी का परिणाम हो सकता है.

मांसपेशियों और शरीर में दर्द
कोविड के  लक्षण के रूप में मांसपेशियों के दर्द की रिपोर्ट करने वाले लोगों की संख्या बढ़ रही है. मांसपेशियों में दर्द, जोड़ों में दर्द, शरीर में दर्द, सभी वायरस के संकेत हो सकते हैं. मांसपेशियों में दर्द और शरीर में दर्द होने का मुख्य कारण माइगेलिया है, जो महत्वपूर्ण मांसपेशी फाइबर और टिशू लाइनिंग पर हमला करने वाले वायरस का एक रिजल्ट है. संक्रमण के दौरान सूजन से जोड़ों में दर्द, कमजोरी और बॉडी पैन भी हो सकता है.
 
बुखार आना
अत्यधिक ठंड लगना या असामान्य रूप से ठंड महसूस करना वायरस का संकेत हो सकता है. वास्तव में कम ग्रेड बुखार के साथ ठंड लगना शुरुआती दिनों में संक्रमण का संकेत हो सकता है.
   
जी मिचलाना और उल्टी
मतली (जी मिचलाना) और उल्टी को अब शुरुआती दिनों में संक्रमण के संकेत के रूप में देखा जा रहा है. दस्त लगना भी संक्रमण का एक संकेत हो सकता है. 

यह भी पढ़ें
कोरोना का सबसे बड़ा अटैक, देश में आए 217,353 नए केस, 24 घंटे में 1185 की मौत

कोरोना की रफ्तार को रोकने के लिए दिल्ली में आज से लगेगा वीकेंड कर्फ्यू, 30 अप्रैल तक रहेंगी पाबंदियां

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *