property


अधिकांश लोगों का यह मानना है कि प्रॉपर्टी में निवेश करना इनवेस्टमेंट का सबसे बेहतर ऑप्शन है. हालांकि प्रॉप्टी में निवेश करते समय कुछ बातों की सावधानी बरतनी चाहिए नहीं तो फायदे की जगह नुकसान उठाना पड़ सकता है.

चेक करें क्रेडिट स्कोर

अगर आप प्रॉपर्टी के लिए लोन का आवेदन करने जा रहे हैं तो आपको अपना क्रेडिट स्कोर देखना चाहिए. आपकी क्रेडिट हिस्‍ट्री में अगर कोई दिक्कत हो तो लोन का आवेदन खारिज हो सकता है, या फिर आपसे ज्यादा ब्याज लिया जा सकता है. क्रेडिट स्टोरी 750 या इससे अधिक होनी चाहिए. 750 या इससे अधिक क्रेडिट स्कोर होने पर आपको सबसे कम दरों का लाभ मिल सकता है.

प्रॉपर्टी खरीदने में न करें जल्दबाजी

प्रॉपर्टी खरदीते समय कई चीजों का ध्यान रखना चाहिए जैसे – मूल्य, लोकेशन, प्रॉपर्टी आगे कितनी की बिकेगी आदि. प्रॉपर्टी के कागजात भी अच्छी तरह से चेक करने चाहिए कहीं कोई केस तो नहीं है. यह काफी लंबा काम इसलिए आप पूरे होमवर्क और तसल्ली के साथ ही प्रॉपर्टी खरीदें.

प्रॉपर्टी खरीदने में जल्दबाजी न करें पहले कई प्रॉपर्टियों का पता करें. कमीशन बनाने के लिए कोई ब्रोकर अनुचित प्रॉपर्टी भी खरीदवा सकता है. इसके अलावा आप रियल एस्‍टेट इनवेस्‍टमेंट की पूरी कॉस्‍ट भी निकालें.

अन्य निवेश भी देते हैं फायदा

अगर सिर्फ निवेश के मकसद से प्रॉपर्टी खरीदना चाहते हैं तो आपको निवेश के बाकी विकल्पों पर भी विचार करना चाहिए. स्‍मॉल सेविंग्‍स या इक्विटी जैसे फाइनेंशियल इंस्‍ट्रूमेंट कहीं सस्‍ते विकल्‍प हैं. इसके अलावा म्‍यूचुअल फंड भी निवेश विकल्प हो सकता है. इसके अलावा रियल एस्‍टेट में मेनटिनेंस कॉस्‍ट और प्रॉपर्टी टैक्‍स देना पड़ता है. वहीं, अन्‍य इंस्‍ट्रूमेंट में निवेश को मेनटेन का खर्च बहुत मामूली होता है.

यह भी पढ़ें:

पोस्ट ऑफिस की इन योजनाओं में निवेश है सुरक्षित, मिलता है FD से ज्यादा रिटर्न



Car Home Loan EMI:
Car Loan EMI Calculator

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *