80f40f4b9b8d78bdf4336347370807d3 original


पाकिस्तान ने कोविड-19 मामलों में रिकॉर्ड वृद्धि के चलते भारत से यात्रियों के आने पर दो सप्ताह के लिए रोक लगाने का सोमवार को फैसला किया. भारत के केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा सोमवार को जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, भारत में कोविड-19 मामलों की कुल संख्या 1.50 करोड़ के आंकड़े को पार कर गई है और महज 15 दिनों में 25 लाख नए मामले सामने आये हैं. वहीं, एक्टिव मामलों की संख्या 19 लाख से अधिक हो गई है. सुबह जारी किए गए आंकड़े के अनुसार, देश में एक दिन में कोविड-19 के 2,73,810 नए मामले सामने आने से संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 1,50,61,919 हो गई है. एक दिन में रिकॉर्ड 1,619 और मरीजों की मौत हो जाने से मरने वालों की संख्या बढ़कर 1,78,769 हो गई.

पाकिस्तान के नेशनल कमांड एंड ऑपरेशन सेंटर (एनसीओसी) के प्रमुख असद उमर की अध्यक्षता में आयोजित एक बैठक में भारत से यात्रा पर दो सप्ताह की रोक लगाने का फैसला किया गया. इस संबंध में एक बयान में कहा गया, ‘‘एनसीओसी ने भारत को दो सप्ताह के लिए श्रेणी ‘सी’ देशों की सूची में रखने का फैसला किया. हवाई और जमीनी मार्ग से भारत से आने वाले यात्रियों पर रोक रहेगी.’’ पहले से ही श्रेणी ‘सी’ में सूचीबद्ध अन्य देशों में दक्षिण अफ्रीका, बोत्सवाना, घाना, केन्या, कोमोरोस, मोज़ाम्बिक, ज़ाम्बिया, तंजानिया, रवांडा, ब्राजील, पेरू, कोलंबिया, चिली, एस्वातीनी, जिम्बाब्वे, लेसेथो, मलावी, सेशेल्स, सोमालिया, सूरीनाम, उरुग्वे और वेनेजुएला शामिल हैं.

पिछले सप्ताह करीब 815 सिख तीर्थयात्री पहुंचे थे भारत

पिछले सप्ताह करीब 815 सिख तीर्थयात्री बैसाखी त्योहार के अवसर पर भारत से लाहौर पहुंचे थे. उन्हें 10 दिनों के लिए रहने की अनुमति है. इससे पहले एनसीओसी की बैठक को कोरोना वायरस के नए भारतीय प्रकार के बारे में जानकारी दी गई जिसके परिणामस्वरूप भारत में संक्रमण के मामलों में वृद्धि हुई है. बयान में कहा गया है कि एनसीओसी ने साथ ही श्रेणी ‘सी’ की 21 अप्रैल को समीक्षा करने की घोषणा की जिसके तहत इसमें किसी नए देश को जोड़ा जाएगा या इससे हटाया जाएगा.

20 देश श्रेणी ‘ए’ में हैं शामिल 

पहले से ही 20 देश श्रेणी ‘ए’ में हैं जहां से आने वाले यात्रियों को पाकिस्तान में प्रवेश से पहले कोविड-19 जांच की आवश्यकता नहीं है. इन देशों में ऑस्ट्रेलिया, भूटान, चीन, फिजी, जापान, कज़ाकिस्तान, लाओस, मंगोलिया, मॉरिटानिया, मोरक्को, म्यांमा, नेपाल, न्यूजीलैंड, सऊदी अरब, सिंगापुर, दक्षिण कोरिया, श्रीलंका, ताजिकिस्तान, त्रिनिदाद और टोबैगो तथा वियतनाम शामिल हैं. वहीं, जो देश श्रेणी ‘ए’ या ‘सी’ में नहीं हैं, उन्हें श्रेणी ‘बी’ में रखा गया है. इन देशों से आने वाले यात्रियों को पाकिस्तान के लिए यात्रा शुरू करने से पहले कोविड-19 जांच कराना जरूरी है जो 72 घंटे से अधिक पहले नहीं होनी चाहिए.

ये भी पढ़ें :-

वाशिंगटनः जलवायु सम्मेलन से पहले अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने उत्सर्जन कम करने के लक्ष्य पर जोर दिया

जॉनसन एंड जॉनसन ने भारत से मांगी तीसरे फेज के ट्रायल की मंज़ूरी, कोरोना वैक्सीन के आयात के लिए लाइसेंस भी मांगा

 



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *