84e265d347fb7d621d710b2b893eb3c4 original



<p style="text-align: justify;">भारत में कोरोना की बेकाबू रफ्तार और यहां के अधिकतर अस्पतालों में फुल हो चुके कोरोना मरीजों के बेड के हालात को देखते हुए एक तरफ जहां ब्रिटेन ने इसे &lsquo;रेड लिस्ट&rsquo; में डाल दिया है तो वहीं दूसरी तरफ फ्रांस ने भारत से आ रहे लोगों को लेकर कदम उठाया है. फ्रांस में आने वाले दिनों में भारत से जा रहे लोगों को 10 दिनों का क्वारंटाइन किया जाएगा. सरकार के प्रवक्ता गेब्रिएल अट्टल ने बुधवार को इस बात की जानकारी दी.</p>
<p style="text-align: justify;">&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;">फ्रांस की तरफ से यह कदम ऐसे वक्त पर उठाया जा रहा है जब कुछ दिनों पहले पेरिस ने ब्राजील से आने वाली सभी तरह की फ्लाइट्स पर बैन लगा दी थी. ताकि वहां के नए कोरोना वैरिएंट के फैलने की रोकथाम की जा सके. इसके साथ&nbsp; ही, अर्जेंटीना, चिले और दक्षिण अफ्रीका से आने वालों लोगों को क्वारंटाइन की जरूरत का ऐलान किया था.</p>
<p style="text-align: justify;">&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;">महामारी पर कैबिनेट की बैठक के बाद अट्टल ने कहा- उन देशों&nbsp; में जहां स्थिति काफी खराब और चिंताजनक है, हम फिर से सख्ती करेंगे. उन्होंने कहा कि भारत को इस सूची में शामिल किया जाएगा. आने वाले दिनों में यात्रा प्रतिबंधों को लेकर बताया जाएगा.</p>
<p style="text-align: justify;">&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;">गौरतलब है कि भारत में कोरोना को लेकर स्थिति चिंताजनक बनी हुई है. यहां पर कोरोना की दूसरी लहर पहले के मुकाबले ज्यादा खतरनाक हो चुकी है. रोजाना भारत में कोरोना के मामले ढाई लाख के पार हो चुके हैं. भारत सरकार की तरफ से 1 मई से 18 साल से ऊपर के सभी आयु-वर्ग के लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाने की इजाजत दे दी गई है.</p>



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *