pic credit twitter 1614879369


भारतीय महिला हॉकी टीम को गुरुवार को जर्मनी के खिलाफ चौथे और आखिरी मैच में 1-2 से हार का सामना करना पड़ा। यह टीम इंडिया की चौथे मैच में लगातार चौथी हार रही और टीम एक भी जीत अपने नाम नहीं कर सकी। जर्मनी की टीम शुरुआत से ही काफी आक्रामक नजर आई और भारतीय टीम को मैच में आने का मौका नहीं दिया। भारत की तरफ से लालरेमसियामी ने एकमात्र गोल 51वें मिनट में किया। 

पहले मैच में जबर्दस्त जीत के बाद भारत ने जर्मनी से दूसरा मैच ड्रॉ खेला

निया की तीसरे नंबर की जर्मनी की टीम के लिये नाओमी हेन (29वें) और चार्लोट स्टापेनहोर्स्ट (37वें) ने गोल दागे। भारतीय टीम के लिये एकमात्र गोल लालरेमसियामी ने 51वें मिनट में किया। यह भारत की चौथे मैच में चौथी हार थी। बारिश के कारण मैच शुरू होने में देरी हुई। जर्मनी ने शुरू में ही आक्रामकता बरती और 10वें मिनट में ही पेनल्टी कार्नर हासिल कर लिया। सविता और उनकी रक्षात्मक पंक्ति ने विपक्षी टीम को दूर ही रखा। भारत को भी एक मिनट बाद एक पेनल्टी कार्नर मिला। लेकिन जर्मनी के मजबूत डिफेंस ने भी भारत को सफलता हासिल नहीं करने दी।

मुक्केबाजी टूर्नामेंट के फाइनल में पूजा रानी, लवलीना बोरगोहेन हारीं

दूसरे क्वार्टर के खत्म होने में एक मिनट बचा था कि हेन ने शानदार मैदानी गोल से मेजबानों को बढ़त दिला दी। जर्मनी ने पहले हाफ के बाद कोशिश करना जारी रखा और उन्हें दूसरा पेनल्टी कार्नर मिला। भारत ने फिर अच्छे डिफेंस का नमूना पेश किया और जर्मनी के लगातार हमलों को रोका। लेकिन 37वें मिनट में स्टापेनहोर्स्ट ने स्कोर 2-0 कर दिया। भारतीय टीम ने चौथे क्वार्टर में प्रयास तेज कर दिये और लालरेमसियामी ने 51वें मिनट में गोल कर अंतर कम किया। जर्मनी ने अंत तक बढ़त कायम रखी और दौरे पर लगातार चौथी जीत हासिल की। 



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *