koneru humpy photo social media 1595184056


रैपिड फॉर्मेट की मौजूदा वर्ल्ड शतरंज चैम्पियन कोनेरू हम्पी को सोमवार को बीबीसी साल की सर्वश्रेष्ठ भारतीय महिला खिलाड़ी पुरस्कार (इंडियन स्पोर्ट्सवुमन ऑफ द ईयर अवॉर्ड) 2020 का विजेता चुना गया। पिछले साल शुरू किए इस पुरस्कार की वह दूसरी विजेता हैं। महज 15 साल की उम्र में ग्रैंडमास्टर बनने वाली हम्पी को फैंस से सबसे ज्यादा वोट के आधार पर चुना गया। जाने-माने खेल पत्रकारों और विशेषज्ञों की जूरी ने इस पुरस्कार के लिए पांच भारतीय महिला खिलाड़ियों को नॉमिनेट किया था।

विनेश फोगाट ने जीता गोल्ड मेडल, फिर हासिल की नंबर एक रैंकिंग

इसमें हम्पी के अलावा फर्राटा धाविका दुती चंद, निशानेबाज मनु भाकर, पहलवान विनेश फोगाट और भारतीय महिला हॉकी टीम की मौजूदा कप्तान रानी रामपाल शामिल थीं। इसके बाद फैंस के ऑनलाइन मतदान से विजेता का फैसला हुआ। बीबीसी से हम्पी ने कहा, ”यह पुरस्कार ना सिर्फ मेरे लिए बल्कि शतरंज बिरादरी के लिए बेशकीमती है। शतरंज एक इंडोर खेल है, इसलिए भारत में क्रिकेट की तरह इस पर अधिक ध्यान नहीं दिया जाता। मुझे हालांकि उम्मीद है कि इस पुरस्कार के बाद शतरंज की ओर लोगों का ध्यान जाएगा।”

बॉक्सम इंटरनेशनल टूर्नामेंट: भारतीय मुक्केबाजों ने एक गोल्ड सहित 10 पदकों पर किया कब्जा

ऑनलाइन तरीके से आयोजित किए गए इस पुरस्कार समारोह में दिग्गज एथलीट अंजु बॉबी जॉर्ज को ‘लाइफटाइम अचीवमेंट’ पुरस्कार दिया गया। उन्होंने 2003 में विश्व चैम्पियनशिप में ऊंची कूद में कांस्य पदक जीत कर इतिहास रचा था। वह इस उपलब्धि को हासिल करने वाली पहली भारतीय एथलीट बनीं थी। इंग्लैंड के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स ने युवा निशानेबाज भाकर को साल की उभरती हुए खिलाड़ी के रूप में चुने जाने की घोषणा की। पिछले साल इस पुरस्कार के पहले आयोजन में बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु को विजेता चुना गया था।



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *