vaccine 1


यूरोपीय मेडिसिन्स एजेंसी (ईएमए) ने गुरुवार को कहा कि एक विशेष जांच दल ने यह पाया है कि कोविड-19 के खिलाफ एस्ट्रेजेनिका की सुरक्षित और प्रभावी थी और यह फायदेमंद है. दरअसल, वैक्सीन लेने वाले कुछ लोगों में खून के धक्के के जमाव की रिपोर्ट्स सामने आने के बाद यूरोपीय यूनियन के देशों ने एस्ट्रेजेनिका की वैक्सीन पर रोक लगा दी थी. इसके साथ ही, इसको लेकर जांच शुरू की गई थी.

ईएमए के एग्जक्यूटिव डायरेक्टर एमर कुक ने कहा कि एजेंसी के फार्माकोविजिलेंस रिस्क एसेंसमेंट कमेटी (पीआरएसी) ने यह पाया कि वैक्सीन सुरक्षित और प्रभावी है और इसका खून के थक्के से किसी तरह का कोई संबंध नहीं है.

गौरतलब है कि कई देशों के कुछ लोगों में टीका दिए जाने के बाद कथित तौर पर खून के थक्के बनने की समस्या देखी गई थी, जिसे लेकर जांच की जा रही थी. यह टीका लगाए जाने के बाद रक्त के कथित तौर पर थक्के जमने की खबरों को लेकर इस सप्ताह के शुरू में जर्मनी, फ्रांस, स्पेन और इटली समेत 12 से अधिक देशों ने एस्ट्राज़ेनेका कोविड टीके के इस्तेमाल को अस्थायी रूप से रोक दिया था.

इस बीच, एस्ट्राजेनेका और विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा था कि इस बारे में कोई साक्ष्य नहीं है कि इस टीके से रक्त के थक्के जमने के मामले बढ़े हैं. ईएमए के कार्यकारी निदेशक एमर कुक ने कहा था कि एजेंसी इस बात से पूरी तरह से सहमत है कि एस्ट्राजेनेका की खुराक खतरों को कम कर देती है, हालांकि इस बारे में आकलन जारी है.

ये भी पढ़ें: बहरीन प्रिंस के नेपाल पहुंचने पर मचा बवाल, जानिए क्या है इसका कोरोना वैक्सीन से कनेक्शन



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *