भारतीय मुक्केबाजों ने स्पेन के कास्टेलोन में आयोजित बॉक्सम इंटरनेशनल टूर्नामेंट में एक गोल्ड सहित कुल 10 पदक जीते और टोक्यो ओलम्पिक के लिए अपनी मजबूत तैयारी का संकेत दे दिया। विश्व चैंपियनशिप के सिल्वर मेडलिस्ट मनीष ने शानदार प्रदर्शन करते हुए डेनमार्क के निकोलई तेरतेरयन को 63 किग्रा वर्ग में 3-2 से हराकर गोल्ड मेडल जीता।

स्विस ओपन के फाइनल में कैरोलिना मारिन ने एकतरफा मैच में पीवी सिंधु को हराया

इसके अलावा विश्व चैंपियनशिप के कांस्य पदक विजेता विकास कृष्णन को स्थानीय मुक्केबाज एनदियो सिसोखो के हाथों 69 किग्रा वर्ग में 1-4 से हारकर रजत से संतोष करना पड़ा। एशियाई चैंपियन पूजा रानी को 75 किग्रा, युवा जास्मिन को 57 किग्रा, सिमरनजीत कौर  (60), मुहम्मद हुसामुद्दीन  (57), आशीष  कुमार  (75), सुमि सांगवान (81) और सतीश कुमार  (+91).को रजत से संतोष करना पड़ा।

बोक्साम इंटरनेशनल टूर्नामेंट का फाइनल नहीं खेल पाएंगे IND मुक्केबाज

आशीष कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के कारण अपने फ़ाइनल से हट गए जबकि चार अन्य मुक्केबाज भी एहतियातन अपने वर्गों के फ़ाइनल से हट गए। ये सभी मुक्केबाज आशीष के नजदीकी संपर्क में थे। छह बार की विश्व चैंपियन एमसी मैरीकॉम को सेमीफाइनल में हारने करे कारण ब्रॉन्ज मेडल से संतोष करना पड़ा। भारत के 14 मुक्केबाजों ने टूर्नामेंट में हिस्सा लिया।

 



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *