bajrang punia facebook 1614585901


टोक्यो ओलंपिक की तैयारियों में लगे भारतीय पहलवान बजरंग पूनिया ने आखिरी 30 सेकेंड में दो प्वॉइंट्स लेकर माटियो पेलिकोन रैंकिंग कुश्ती सीरीज में गोल्ड मेडल जीता। इसके साथ ही उन्होंने अपने खिताब का बचाव भी किया, साथ ही अपने वजन वर्ग में फिर से नंबर एक रैंकिंग हासिल कर ली। मंगोलिया के तुल्गा तुमूर ओचिर के खिलाफ 65 किग्रा के फाइनल में बजरंग अंतिम क्षणों तक 0-2 से पीछे चल रहे थे लेकिन आखिरी 30 सेकेंड में उन्होंने दो प्वॉइंट्स लेकर स्कोर बराबर कर दिया।

बॉक्सम इंटरनेशनल टूर्नामेंट: भारतीय मुक्केबाजों ने एक गोल्ड सहित 10 पदकों पर किया कब्जा

रविवार को हुए इस मुकाबले में भारतीय पहलवान ने आखिरी प्वॉइंट बनाया था और इस आधार पर उन्हें विजेता घोषित किया गया। बजरंग इस प्रतियोगिता से पहले अपने वजन वर्ग की रैंकिंग में दूसरे स्थान पर थे लेकिन यहां 14 प्वॉइंट्स हासिल करने से वह टॉप पर पहुंच गए। ताजा रैंकिंग केवल इस टूर्नामेंट के परिणाम पर आधारित है और इसलिए गोल्ड मेडल जीतने वाला पहलवान नंबर एक रैंकिंग हासिल कर रहा है।

विनेश फोगाट ने जीता गोल्ड मेडल, फिर हासिल की नंबर एक रैंकिंग

विशाल कालीरमण ने गैर ओलंपिक वर्ग 70 किग्रा में प्रभावित किया। उन्होंने कजाखस्तान के सीरबाज तालगत को 5-1 से हराकर ब्रॉन्ज मेडल जीता। इस बीच चार साल के डोपिंग प्रतिबंध के बाद प्रतिस्पर्धी कुश्ती में वापसी करने वाले नरसिंह पंचम यादव ब्रॉन्ज मेडल के मुकाबले में कजाखस्तान के दानियार कैसानोव से हार गए। भारत ने साल की इस पहली रैंकिंग सीरीज में सात पदक जीते। महिला वर्ग में विनेश फोगाट ने गोल्ड और सरिता मोर ने सिल्वर मेडल जीता था। ग्रीको रोमन के पहलवान नीरज (63 किग्रा), कुलदीप मलिक (72 किग्रा) और नवीन (130 किग्रा) ने कांस्य पदक जीते थे। 



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *