pjimage 2021 03 10T115542.047


ब्रिटिश शाही परिवार की सदस्य मेगन मार्केल इन दिनों सुर्खियों में हैं. ओपरा विन्फ्रे के साथ टीवी इंटरव्यू में उन्होंने शाही महल पर कई गंभीर आरोप लगाकर सनसनी मचा दी. इंटरव्यू में उन्होंने अपनी प्रेगेनेन्सी से जुड़ी घटनाओं पर भी खुलकर बात की. उन्होंने कहा कि उस दौरान उनके बच्चे के भविष्य के बारे में चर्चा शुरू हो गई थी कि उसे किस नाम से संबोधित किया जाएगा.

इस बारे में शाही नियम क्या हैं?

शाही नियम के मुताबिक, राजकुमार या राजकुमारी घोषित किए जाने पर कुछ अधिकार मिलते हैं. ये अधिकार एक शाही आदेश या ‘लेटर ऑफ पेटेंट’ के तहत मिलता है. नवंबर 1917 में किंग जॉर्ज-V की तरफ से जारी ‘लेटर ऑफ पेटेंट’ एक कानूनी दस्तावेज है. ये बादशाह या महारानी की तरफ से खुले खत की तरह होता है जिसके जरिए शाही पदवी और आदेश जारी किए जाते हैं.

1917 में जारी होनेवाले खत में जॉर्ज-V ने कहा था कि बादशाह के पड़पोते या पड़पोतियों को राजकुमार या राजकुमारी की उपाधि नहीं मिलेगी. अलबत्ता, इस मामले में प्रिंस ऑफ वेल्स के सबसे बड़े बेटे के सबसे बड़े बेटे को ये सम्मान हासिल होगा. वर्तमान स्थिति में इसका मतलब ये हुआ कि प्रिंस जॉर्ज यानी प्रिंस विलियम के बड़े बेटे राजकुमार पद के लिए अधिकृत होंगे, लेकिन आर्ची को ये सम्मान नहीं मिलेगा, जबकि दोनों महारानी के पड़पोते हैं.

प्रिंस हैरी की 94 वर्षीय दादी महारानी एलिजाबेथ द्वितीय हैं. महारानी ब्रिटिश शाही परिवार के वंश में सबसे ऊपर हैं. इस हिसाब से राजकुमार जॉर्ज के भाई राजकुमार लुईस और छोटी बहन शारलोट को भी शाही खानदान में ये दर्जा नहीं मिलेगा. लेकिन दिसंबर, 1912 में महारानी ने भी एक ‘लेटर ऑफ पेटेंट’ जारी कर घोषणा की थी कि राजकुमार विलियम के बच्चों को भी राजकुमार या राजकुमारी कहा जाएगा.

आर्ची के पद का क्या होगा?

1917 के खत के मुताबिक, आर्ची को राजकुमार के खिताब का अधिकार प्राप्त है लेकिन फिलहाल नहीं है. राजकुमार हैरी और मेगन के बच्चों को प्रिंस चार्ल्स के बादशाह बनने तक इंतजार करना पड़ेगा. उस वक्त प्रिंस हैरी के बच्चे प्रिंस चार्ल्स के पोते और पोतियां बन जाएंगे और उनको राजकुमार या राजकुमारी के पद का अधिकार प्राप्त हो जाएगा. इस बारे में मेगन अच्छी तरह से वाकिफ हैं.

इसलिए इंटरव्यू में उन्होंने खुलासा किया था कि जार्ज-V की परंपरा का मतलब है कि उनके बेटे को आर्ची को उस वक्त राजकुमार के पद का अधिकार प्राप्त होगा जब हैरी के पिता बादशाह बन जाएंगे. आगे उन्होंने ये भी कहा कि उनकी प्रेगनेन्सी के दौरान उन्हें ‘आर्ची’ के मामले में शाही परंपरा को बदलकर राजकुमार बनने का रास्ता बंद करने की जानकारी मिली थी. हालांकि, उन्होंने अपने आरोप पर ज्यादा जानकारी नहीं दी.

Harry-Meghan Interview: रंगभेद के आरोप पर बंकिघम पैलेस सख्त, कहा- क्वीन ने इसे गंभीरता से लिया

China Virus Passport: चीन ने लॉन्च किया ‘वायरस पासपोर्ट’, नागरिकों की प्राइवेसी से खिलवाड़ की आशंका बढ़ी



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *