manu bhaker twitter 1613807139


टोक्यो ओलंपिक में पदक की उम्मीद निशानेबाज मनु भाकर ने दिल्ली से भोपाल की उड़ान लेते समय एयर इंडिया के दो कर्मचारियों द्वारा कथित तौर पर अपमान और उत्पीड़न किए जाने के कारण उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। कॉमनवेल्थ गेम्स और युवा ओलंपिक की गोल्ड मेडलिस्ट 19 साल की पिस्टल निशानेबाज मनु खेलमंत्री किरेन रीजीजू के दखल के बाद ही फ्लाइट में बैठ सकीं।

मनु ने इसके लिए खेलमंत्री को धन्यवाद दिया और उम्मीद जताई कि दिल्ली में एयर इंडिया के अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। एयर इंडिया ने भी अपने कर्मचारियों के बर्ताव के लिए माफी मांगी है। मनु ने कहा, ‘मैंने जो अपमान और उत्पीड़न झेला, उसके लिए वे जिम्मेदार हैं। अपने कर्मचारियों (मनोज गुप्ता और एक अन्य सुरक्षाकर्मी) को बचाने की कोशिश करके एयर इंडिया अपनी छवि और खराब करेगा।’ उन्होंने कहा, ‘एयर इंडिया अब कह रहा है कि वे सिर्फ दस्तावेज मांग रहे थे और अपना काम कर रहे थे लेकिन मुझे यकीन है कि सीसीटीवी में सब रिकॉर्ड होगा। आप देख सकते हैं। उन्होंने मेरा मोबाइल छीना और मेरी मां की खींची तस्वीर डिलीट की।’

अंकिता ने अपना पहला डब्ल्यूटीए खिताब जीता, रैंकिंग में बड़ी छलांग

रीजीजू ने इस मसले का जिक्र करते हुए मनु को ‘भारत का गौरव’ बताया। एयर इंडिया ने ट्वीट किया, ‘हम आपको हुई असुविधा के लिए क्षमाप्रार्थी हैं। हम इस मसले की विस्तार से जानकारी आपके मोबाइल नंबर के साथ चाहते हैं ताकि आपकी आगे सहायता कर सकें।’ मनु ने कहा कि अपनी पिस्तौल के साथ ट्रैवल करने की नागर विमानन महानिदेशालय से मंजूरी और सारे वैध दस्तावेज साथ होने के बावजूद उनके साथ ऐसा बर्ताव किया गया। उन्होंने कहा, ‘मैंने कहा भी कि मैं निशानेबाज हूं और भारत के लिए ओलंपिक खेलने वाली हूं तो उन्होंने कहा कि आप ओलंपिक खेलो या नेशनल्स, हमें फर्क नहीं पड़ता।’

AUS OPEN 2021: डेनियल मेदवेदेव पहली बार फाइनल में

मनु ने कहा, ‘उनका बर्ताव अस्वीकार्य था। कम से कम खिलाड़ी को थोड़ा तो सम्मान दें और इस तरह से अपमान नहीं करे। समस्या पैसा नहीं उनका बर्ताव है। मंत्रालय हमारे सारे खर्च उठाता है।’ एक अन्य पोस्ट में एयर इंडिया ने लिखा, ‘दिल्ली हवाई अड्डे पर हमारी टीम ने पुष्टि की है कि हमारे काउंटर पर अधिकारी ने सिर्फ वैध दस्तावेज मांगे थे जो नियमों के तहत था।’





Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *