raveena tandon 1614240518


बॉलीवुड एक्ट्रेस रवीना टंडन कभी भी एक्टर नहीं बनना चाहती थीं, लेकिन अब इस इंडस्ट्री में उन्होंने 30 साल पूरे कर लिए हैं। रवीना का कहना है कि उन्हें लगता ही नहीं कि इंडस्ट्री में इतना लंबा समय हो चुका है। जब भी वह नई फिल्म, नया सीन या नया शो करती हैं तो आज भी उनके पेट में तितलियां उड़ती हैं। रवीना आज भी बहुत कुछ सीख रही हैं, वह भी नए जमाने की तकनीकियों के साथ। 

प्रोड्यूसर-डायरेक्टर रवि टंडन की बेटी रवीना ने कई तरह की फिल्मों में हाथ आजमाया है। कॉमेडी, ड्रामा के साथ फिल्मों के जरिए लोगों तक सोशल मैसेज पहुंचाने की कोशिश की है। रवीना कहती हैं कि मैं इस इंडस्ट्री का हिस्सा गलती से बन गई। मैं कभी एक्टर बनना ही नहीं चाहती थी। मैं काफी रिजर्व किस्म की लड़की थी जो दांतों से नाखून काटती थी, उन लोगों से डरती थी जो मुझे देख रहे होते थे। क्लास में भी ऐसी ही थी, लास्ट बेंच पर बैठती थी। स्कूल में मुझे लीड रोल मिलते थे, प्ले में और एनुअल फंक्शन में भी। नर्वस होने के बावजूद मैं इन रोल्स को बखूबी निभाया करती थी। मैं डायरेक्टर बनना चाहती थी, लेकिन किस्मत में कुछ और ही होना लिखा था। 

रवीना कहती हैं कि मैं ऐड गुरु प्रहलाद कक्कड़ से मिली थी। वह मुझे हमेशा स्क्रीन पर होने के लिए कहते थे, लेकिन मैं मना कर देती थी। मुझे ऑफर्स भी आते थे, फिर भी इनकार कर देती थी। मैं पहले अपनी पढ़ाई पूरी करना चाहती थी। मुझे कुछ सात या आठ ऑफर्स मिले थे, पत्थर के फूल फिल्म से पहले। हीर रांझा और जंगल उनमें से एक थे। ऐसा नहीं है कि ये फिल्में अच्छी नहीं थीं, बस मैंने एक्टिंग की दुनिया में कदम रखने की दिमाग में प्लानिंग नहीं की थी। किस्मत ने साथ दिया और कॉलेज के पहले साल में ही कुछ लोगों की नजर मुझ पर पड़ी। ऐसा बिल्कुल नहीं है कि मेरे पापा ने किसी को बोला हो या ऑफर्स के लिए फोर्स किया हो। आज जो नेपोटिज्म पर चर्चा होती रहती है, मुझे वह फेक लगती है। मेरे लिए चीजें खुद होती चली गईं। अगर मेरे पास एक्टर बनने के लिए चेहरा न होता तो मैं नहीं पहचानी जाती या मुझे ऑफर्स भी नहीं मिलते। 

रिया चक्रवर्ती हुईं ‘चेहरे’ पोस्टर से आउट, दोस्त बोले- सपने में भी नहीं सोचा था इतना अपमान मिलेगा

शादी के बाद दीया मिर्जा ने शेयर कीं हल्दी से लेकर सात फेरे लेने तक की फोटोज, हुईं वायरल

दरअसल, पत्थर के फूल के मेकर्स मेरे पिता के पास आए थे। उन्होंने कहा कि घर की बच्ची है, चिंता न करें, हर चीज का ख्याल रखा जाएगा। तब तक मैं कॉलेज के दोस्तों संग बातचीत कर एक्टिंग में कदम रखने का भी मन बना चुकी थी। अगले दिन जब मैं कॉलेज गई तो दोस्तों को खुशखबरी दी। कहा कि मैं सलमान खान के साथ फिल्म करने वाली हूं। उन्होंने मुझे कहा कि तुम हां बोल दो, इतना अच्छा मौका मत खो। हम सेट पर आएंगे फोटो लेने, लेकिन अगर तुम एक्टिंग नहीं करना चाहतीं तो यह तुम्हारा फैसला होगा। मैंने फिल्म के लिए हां बोल दिया और बाकी आप सभी के सामने इतिहास है।



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *