antarctica


अंटार्कटिका में आइस शेल्फ से एक विशाल हिमखंड टूट गया है. हिमखंड का आकार मुंबई शहर के दोगुने से भी ज्यादा है. इस हिमखंड का आकार 1,270 वर्ग किमी है जबकि मुंबई का आकार 603 वर्ग किलोमीटर ही है. यह आइस बर्ग 26 फरवरी की सुबह पूरी तरह से टूट गया. बता दें कि पिछले साल नवंबर 2020 में आइस शेल्फ पर एक दरार बनी थी.

“नॉर्थ रिफ्ट” दरार पिछले दशक में ब्रंट आइस शेल्फ में सक्रिय रूप से सबसे अहम हिस्सा था.ब्रिटिश अंटार्कटिक सर्वे (बीएएस) के वैज्ञानिकों ने इसके अलग होने की उम्मीद पहले ही जता दी थी.

बीएएस के निदेशक डेम जेन फ्रांसिस ने कहा, ” हमारी टीमें बरसों से ब्रंट आइस शेल्फ से एक हिमखंड के अलग होने को लेकर पूरी तरह तैयार थी. ब्रिटिश अंटार्कटिक सर्वे द्वारा इसकी एक तस्वीर भी जारी की गई है. वैज्ञानिकों के अनुसार यह घटना बर्न्ट आइस शेल्फ क्षेत्र में हुई. इस विघटन को ‘काल्विंग’ कहा जाता है, जिसमें जमे हुए क्षेत्र से विशाल हिमखंड अलग होते हैं.

बता दें कि धरती पर सबसे ज्यादा बर्फ अंटार्कटिका पर है. कहा जाता है कि अगर अंटार्कटिका की बर्फ टूट कर समुद्र में पिघल जाए तो जलस्तर 70 मीटर बढ़ जाएगा. कई शहर व द्वीप पूरी तरह डूब जाएंगे.

यह भी पढ़ें:

जम्मू में कांग्रेस नेता गुलाम नबी आज़ाद ने की PM मोदी की तारीफ, चाय बनाने का ज़िक्र करते हुए कही ये बात



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *