reliance induatries 720


रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड की तरफ से वित्तीय वर्ष 2020-21 तीसरी तिमाही के नतीजे जारी किए गए हैं. रिलायंस ने अपने सभी व्यवसायों में बेहतरीन क्रमिक (Sequential) वृद्धि दर्ज की है. तिमाही का कंसोलिडेटिड शुद्ध लाभ अपने उच्चतम स्तर पर पहुंचा, साल की तीसरी तिमाही का पैट 24.9% बढ़कर 15,015 करोड़ रुपये हुआ (असाधारण आय को छोड़कर). कंसोलिडेटिड त्रैमासिक EBITDA 12.0% (Q-o-Q) बढ़कर 26,094 करोड़ रु हुआ

EPS में 28.2% का मज़बूत क्रमिक (Sequential) उछाल देखने को मिला। यह असाधारण आय को छोड़कर 20.5 रूपय प्रति शेयर दर्ज हुआ. रिलायंस इंडस्ट्रीज की डिजिटल सर्विसेज़ ने रिकॉर्ड मुनाफ़ा कमाया, तीसरी तिमाही का EBITDA ₹ 8,942 करोड़ रहा जो पिछले साल के मुकाबले 48.4% ज़्यादा है.

रिलायंस रिटेल ने ज़बर्दस्त रिकवरी की है. EBITDA 3,102 करोड़ रुपये के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा जो पिछली तिमाही से 52.9% ज़्यादा है.

कोरोना महामारी के कठिन समय में रिलायंस इंडस्ट्रीज ने 50,000 नई नौकरियाँ दीं. इस तिमाही में जियो प्लैटफॉर्म्स का राजस्व एक्सेस राजस्व मिलाकर 22,858 करोड़ रुपये रहा, जो (क्रमिक रूप से) 5.3% ज़्यादा है. जियो प्लैटफॉर्म्स का इस तिमाही का EBITDA 8,483 करोड़ रुपये रहा जो 6.4% ज़्यादा है. जियो प्लेटफार्म्स का शुद्ध लाभ 15.5% (Q-o-Q) बढ़कर 3,489 करोड़ रुपये हो गया.

जियो प्लेटफार्म्स डिजिटल और दूरसंचार सेवाएं उपलब्ध कराती है. इससे पिछली तिमाही में जियो प्लेटफार्म्स ने 3,020 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था. अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में कंपनी की आमदनी 22,858 करोड़ रुपये रही. 31 दिसंबर, 2020 तक जियो प्लेटफार्म्स के कुल ग्राहकों की संख्या 41 करोड़ थी. कंपनी की मासिक प्रति ग्राहक औसत कमाई (एआरपीयू) तिमाही के दौरान 151 रुपये रही, जो इससे पिछली तिमाही जुलाई-सितंबर में 145 रुपये रही थी.



Car Home Loan EMI:
Car Loan EMI Calculator

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *