farmers


नई दिल्ली: कई दिनों की बैठक के बाद दिल्ली पुलिस और किसान संगठनों के बीच ट्रैक्टर मार्च को लेकर सहमती बन गई. दिल्ली पुलिस इस ट्रैक्टर मार्च को एक बड़ा चैलेंज मानते हुए तैयारियों में जुट गई है. वहीं इस ट्रैक्टर मार्च पर बॉर्डर पर पाकिस्तानी आतंकी संगठनों की नजर है. दिल्ली पुलिस के मुताबिक उन्हें इंटेलिजेंस इनपुट मिल रहे हैं कि बॉर्डर पर पाक आतंकी संगठन इस ट्रैक्टर रैली में कोई गड़बड़ी कर सकते है. पुलिस के मुताबिक उन्हें हाल ही में 308 ऐसे ट्विटर हैंडल का पता चला है, जो किसानों की इस ट्रैक्टर रैली में गड़बड़ी फैलाने के लिए बनाए गए है.

दिल्ली पुलिस के स्पेशल सीपी इंटेलिजेंस दीपेंद्र पाठक के मुताबिक कई राउंड किसान संगठनों के साथ बातचीत के बाद ट्रैक्टर परेड का रोड मैप तैयार हो गया है. ये ट्रैक्टर रैली दिल्ली के सिंघु बॉर्डर, टिकरी बॉर्डर और गाजीपुर बार्डर से निकलेगी. इनका रूट इस तरह होगा….

सिंघु बॉर्डर- सिंघु बॉर्डर से मुकरबा चौक, मुकरबा चौक से शाहबाद डेरी होते हुए बवाना और फिर कंझावला होते हुए औचंडी बॉर्डर. उसके आगे खरखोदा टोल प्लाजा.

टिकरी बार्डर- टिकरी बार्डर से ट्रैक्टर परेड नागलोई, नजफगढ, झड़ौदा होते हुए केएमपी पर चली जाएगी.

गाजीपुर युपी गेट- गाजीपुर युपी गेट से ट्रैक्टर परेड अप्सरा बार्डर गाजियाबाद होते हुए डासना युपी में चली जाएगी.

गणतंत्र दिवस परेड के बाद ट्रैक्टर रैली

दिल्ली पुलिस के मुताबिक अभी फिलहाल टिकरी बॉर्डर पर करीब 7-8 हजार ट्रैक्टर, गाजीपुर पर 1 हजार ट्रैक्टर और सिंघु पर 5 हजार ट्रैक्टर आ चुके है. जिनकी संख्या लगातार बढ़ रही है. दिल्ली के अंदर ये ट्रैक्टर मार्च 100 किलोमीटर से ज्यादा का होगा. पुलिस के मुताबिक ट्रैक्टर परेड का टिकरी बॉर्डर से स्ट्रेच 63 से 64 किलोमीटर, सिंघु बॉर्डर से 62 से 63 किलोमीटर और गाजीपुर से 46 किलोमीटर तक है. पुलिस का कहना है कि ट्रैक्टर परेड गणतंत्र दिवस परेड के बाद शुरू होगी. जिसे एक प्रोफेशनल तरीके से टर्म कंडीशन, रूल्स रेगुलेशन को फॉलो करते हुए करनी होगी. साथ ही यह परेड जहां से शुरू होगी, वहीं वापस खत्म करनी होगी.

यह भी पढ़ें:

अगर भारत के किसान-मजदूर सुरक्षित होते तो चीन भारत में घुसने की हिम्मत नहीं करता- राहुल गांधी



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *