pjimage 8


Covid-19 vaccine: रूस कोविड-19 वैक्सीन के विकास में एक और कदम बढ़ाने जा रहा है. सोमवार को अधिकारियों ने बताया कि रूस स्पुतनिक-V वैक्सीन के एक सिंगल डोज ‘स्पुतनिक-लाइट’ वर्जन का मानव परीक्षण शुरू करेगा. अधिकारियों ने उसे संभावित ‘हल’ बताते हुए कहा कि इससे संक्रमण के उच्च दर वाले मुल्कों की मदद होगी. स्पुतनिक-V की विदेशों में विपणन के लिए जिम्मेदार किरिल दैमित्री ने बताया कि रूस में इस्तेमाल की जानेवाली दो-डोज वैक्सीन मुख्य वर्जन रहेगी.

कोविड-19 वैक्सीन के विकास में रूस का एक और कदम

‘स्पुतनिक-लाइट’ अपने डबल-डोज वर्जन के मुकाबले कम प्रभावी होगी, लेकिन कोरोना वायरस से बुरी तरह प्रभावित देशों को अस्थायी राहत मिल सकेगी. डबल-डोज स्पुतनिक-V वैक्सीन के विकास में वित्तीय मदद देनेवाला रशियन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट फंड ‘स्पुतनिक-लाइट’ के मानव परीक्षण में भी वित्तीय सहयोग करेगा. सिंगल-डोज वर्जन निर्यात के लिए इस्तेमाल किया जा सकेगा. वैक्सीन की वैश्विक मांग को देखते हुए ‘स्पुतनिक-लाइट’ मूल वैक्सीन की सिंगल डोज घटक होगी. उसका मानव परीक्षण मास्को और सेंट पीटर्सबर्ग में 150 लोगों पर किया जाएगा.

सिंगल-डोज ‘स्पुतिनक लाइट’ वैक्सीन का करेगा परीक्षण

अधिकारियों के मुताबिक, 10 लाख से ज्यादा लोगों को अबतक स्पुतनिक-V का मूल दो-डोज वर्जन दिया जा चुका है. कई देश कोविड-19 वैक्सीन की कम आपूर्ति को विस्तार देने के तरीकों पर विचार कर रहे हैं. उसमें डबल-डोज की देरी और डोज के आकार को कम करना शामिल है. पिछले साल अगस्त में रजिस्ट्रेशन से रूस दुनिया में पहला मुल्क वैक्सीन की मान्यता देनेवाला बन गया था. हालांकि, परीक्षण पूरा होने से पहले मंजूरी मिलने पर विशेषज्ञों ने वैक्सीन को लेकर चिंता भी जताई थी. दिसंबर की शुरुआत में रूस ने वैक्सीन के अंतिम चरण के मानव परीक्षण में होते हुए भी पूरे मुल्क में बड़े पैमाने पर टीकाकरण शुरू कर दिया था. आलोचकों ने रूस के इस कदम को भू-राजनैतिक प्रभाव बढ़ाने के तौर पर देखा.

अमेरिकी मंत्रालय की वेबसाइट से हटाया गया ट्रंप का नाम, उपराष्ट्रपति की बायोग्राफी से छेड़छाड़

यूएस कैपिटल हिंसा के हफ्तेभर बाद अमेरिका की फर्स्ट लेडी मेलानिया ट्रंप ने दिया ये बयान



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *