Bitcoin


क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन में लगातार तेजी देखने को मिल रही है. नए साल पर बिटकॉइन की कीमत ने सारे रिकॉर्ड तोड़ते हुए नया रिकॉर्ड कायम किया है. एक जनवरी को बिटकॉइन 29,000 डॉलर के पार निकल गया और दो जनवरी को इसकी कीमत 32 हजार डॉलर के पार चली गई. रविवार सुबह एक बिटकॉइन की कीमत 32,602.80 डॉलर है. माना जा रहा है कि नए साल पर सारे बाजार बंद होने के चलते बिटकॉइन में जोरदार तेजी देखने को मिली. एक बिटकॉइन की कीमत 23.83 लाख रुपए हो गई है.

क्या है बिटकॉइन

बिटकॉइन एक विकेंद्रीकृत डिजिटल मुद्रा है और यह पहली विकेन्द्रीकृत डिजिटल मुद्रा है जिसका अर्थ है की यह किसी केंद्रीय बैंक द्वारा नहीं संचालित होती है. कंप्यूटर नेटवर्किंग पर आधारित पेमेंट के लिए इसे बनाया गया है. बिटकॉइन एक वर्चुअल यानी आभासी मुद्रा है, आभासी मतलब कि अन्य मुद्रा की तरह इसका कोई भौतिक स्वरुप नहीं है. यह एक डिजिटल करेंसी है. यह एक ऐसी करेंसी है जिसको आप ना तो देख सकते हैं और न ही छू सकते हैं. यह केवल इलेक्ट्रॉनिकली स्टोर होती है और अगर किसी के पास बिटकॉइन है तो वह आम मुद्रा की तरह ही सामान खरीद सकता है.

एक नया संपत्ति वर्ग?

विश्लेषकों का मानना है कि बिटकॉइन निवेश के लिए एक नए परिसंपत्ति वर्ग के रूप में उभरा है. क्रिप्टो विशेषज्ञों को उम्मीद है कि वर्तमान में, sub-400 बिलियन से बिटकॉइन 1 ट्रिलियन मार्केट कैप को पार करेंगे, जिसका अर्थ है कि अगले एक साल में कीमत 50,000 डॉलर से अधिक हो सकती है.

भारतीय और कई अन्य देशों में बिटकॉइन अनियमित हैं. एक ऐसा लक्षण जो इसके प्रशंसकों के बीच इसकी अपील को बढ़ाता है, लेकिन साथ ही साथ खुदरा निवेशकों को दूर करता है. साल 2017 में बिटकॉइन 1000 फीसदी बढ़कर 19,000 डॉलर पार कर गया था और फिर एक साल बाद यह घटकर 3,500 डॉलर से कम रह गया था.

ये भी पढ़ें-

देश का निर्यात दिसंबर में 0.8 फीसदी घटा, आयात बढ़ने की वजह से व्यापार घाटा बढ़कर 15.71 अरब डॉलर पर

Bank Holidays 2021: जनवरी महीने में इस दिन बंद रहेंगे बैंक, चेक करें फुल लिस्ट



Car Home Loan EMI:
Car Loan EMI Calculator

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *