australian open 2021 representative image 1610617105


ऑस्ट्रेलियाई ओपन इस बार करीब तीन सप्ताह की देरी से शुरू हो रहा है। ऑस्ट्रेलियाई ओपन टेनिस के क्वालीफायर यहां से करीब 12,000 किलोमीटर दूर खेले गए और अब 8 फरवरी से साल के इस पहले ग्रैंडस्लैम के लिए 16 पुरुष और 16 महिला क्वालीफायर चार्टर्ड प्लेन से यहां पहुंचेंगे। कोरोना महामारी के कारण आइसोलेशन प्रोटोकॉल के मद्देनजर टूर्नामेंट तीन सप्ताह देर से शुरू हो रहा है। क्वालीफायर 15 चार्टर्ड प्लेन से यहां पहुंचकर 14 दिन आइसोलेशन में रहेंगे। मुख्य ड्रॉ में पहले ही जगह बना चुके खिलाड़ी आज से पहुंचना शुरू करेंगे।

थाईलैंड ओपन 2021: साइना नेहवाल-किदांबी श्रीकांत दूसरे दौर में पहुंचे

महिला क्वालीफायर मुकाबले दुबई और पुरुष क्वालीफायर दोहा में खेले गए। महिला क्वालीफायर में दो बार की ऑस्ट्रेलियाई ओपन और फ्रेंच ओपन डबल्स चैम्पियन हंगरी की टिमिया बाबोस और ब्रिटेन की फ्रांसिस्का जोंस भी हैं। जोंस के दुर्लभ आनुवांशिक लक्षण हैं यानी वह दोनों हाथ में तीन उंगलियों और एक अंगूठे, दाहिने पैर में तीन उंगलियों और बाएं पैर में चार उंगलियों के साथ पैदा हुई थीं। पुरुष क्वालीफायर में स्पेन के 17 साल के कार्लोस अलकारेज शामिल हैं।

थाईलैंड ओपन: भारत के पी कश्यप पहले ही दौर में रिटायर होकर बाहर

छह महिला और छह पुरुष खिलाड़ी ‘लकी लूजर्स’ के रूप में ऑस्ट्रेलिया जाएंगे और उन्हें भी आइसोलेशन में रहना होगा। किसी खिलाड़ी के नाम वापस लेने या चोटिल होने पर इन्हें मौका मिलेगा। इनके अलावा रैंकिंग के आधार पर 104 खिलाड़ियों को खुद प्रवेश मिला है। वाइल्ड कार्डधारी खिलाड़ी और क्वालीफायर उनसे जुड़ेंगे। सभी खिलाड़ियों को ऑस्ट्रेलिया की उड़ान भरने से पहले कोरोना जांच की नेगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी। पहुंचने पर और आइसोलेशन में भी उनकी जांच होगी। क्वालीफायर को 15 स्पेशल फ्लाइट से लाया जाएगा, जिसमें कुल क्षमता की 25 प्रतिशत सीटें ही भरी होंगी। नेगेटिव नतीजा आने पर खिलाड़ी रोज पांच घंटे कड़े प्रोटोकॉल के बीच प्रैक्टिस कर सकेंगे।



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *