priyanka chopra 1611716893


बॉलीवुड एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा एक ग्लोबल आइकन बन चुकी हैं। बॉलीवुड में दमदार परफॉर्मेंस देने के बाद अब वह हॉलीवुड फिल्मों में अपनी किस्मत आजमा रही हैं। हाल ही में प्रियंका चोपड़ा ने अपनी बुक ‘अनफिनिश्ड’ को लेकर घोषणा की। इसमें उन्होंने यूएस में हाई स्कूल में होने वाले जातिवाद और बुली होने को लेकर खुलकर बात की है। 

प्रियंका चोपड़ा ने लिखा है, “हाई स्कूल में जो बच्चे मेरे पीछे पड़े थे, उन्हें समझ ही नहीं आता था। ऐसा लगता था कि जैसे उन्होंने तय कर लिया था कि वह किसी और बच्चे से ज्यादा पवरफुल हैं। जब आप किसी को पकड़ते हैं तो आप खुद को इनसिक्योर महसूस करते हैं। बच्चों और युवाओं को बुली किया जाता है। यह होता है ताकत मिलने पर, और हम सभी ने ये सब होते कई अलग-अलग तरह से देखा है। मुझे इसने बहुत चोट पहुंचाई है। मेरे कॉन्फिडेंस को चोट पहुंचाई है। उस चीज को चोट पहुंचाई है जो मैं करना चाहती थी। मुझे लगा था कि मैं एक्सपोज हो रही हूं, क्योंकि मेरी स्किन रॉ (कच्ची) है।”

इससे पहले प्रियंका चोपड़ा ने बताया था कि एक भारतीय एक्टर के लिए फेयरनेस क्रीम का विज्ञापन करना कितनी साधारण बात है। इसके बारे में प्रियंका चोपड़ा ने अपनी लॉन्च होने वाली बुक ‘अनफिनिश्ड’ में खुलकर बात की है। 

यूजर कर रहा था दिशा परमार को राहुल वैद्य के नाम से ट्रोल, एक्ट्रेस ने बदले में उड़ाया उसकी अंग्रेजी का मजाक

सिद्धार्थ शुक्ला ने अनोखे अंदाज में किया शहनाज गिल को बर्थडे विश, सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा वीडियो

प्रियंका चोपड़ा ने लिखा, ”साउथ एशिया में स्किन लाइटनिंग को एंडोर्स करना आम बात है। इंडस्ट्री इतनी बड़ी है कि हर कोई कर रहा है। बल्कि, आज भी इसे ठीक माना जाता है, जब एक महिला एक्टर इसे करती है, लेकिन यह गलत बात है। मेरे लिए भी यह करना गलत था। एक छोटी बच्ची जो चेहरे पर टैल्कम पाउडर लगाती थी, क्योंकि मैं विश्वास करती थी कि डार्क स्किन होना अच्छी बात नहीं है।”



Love Calculator:
True Love Calculator

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *