WHO


ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने भारत में सीरम इंस्टीट्यूट की ‘कोविशील्ड’ और भारत बायोटेक की ‘कोवैक्सीन’ को इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी दी है. वहीं विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी COVID19 वैक्सीन के लिए भारत की ओर से उठाए गए कदम का स्वागत किया है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन के दक्षिण-पूर्वी एशिया रीजन के रीजननल डायरेक्टर डॉ पूनम खेत्रपाल सिंह ने कहा है कि वो भारत के कोविड-19 वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल को मंजूरी दिए जाने के कदम का स्वागत करते हैं.

डॉ पूनम खेत्रपाल के अनुसार कोरोना संक्रमण के प्रभाव को कम करने में वैक्सीन का उपयोग सबसे महत्वपूर्ण होगा. उनका कहना है कि कोरोना वैक्सीन के इस्तेमाल के साथ ही सार्वजनिक स्तर पर लोगों के स्वास्थ्य का ध्यान देकर और सामुदायिक भागीदारी के साथ संक्रमण पर नियंत्रण पाया जा सकता है.

भारत में बीते कुछ दिनों में कोरोना संक्रमण की दर में कमी आई है लेकिन ब्रिटेन से भारत पहुंचा कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन काफी खतरनाक साबित हो सकता है. संक्रमित सामने आए हैं. जिसमें से 99 लाख 6 हजार 387 कोरोना संक्रमित का इलाज सफल रहा है. वहीं अभी तक कुल 1 लाख 49 हजार 218 संक्रमितों की मौत कोरोना संक्रमण के कारण हुई है. वर्तमान में दो लाख 50 हजार से ज्यादा कोरोना एक्टिव मामले ऐसे हैं जिनका इलाज किया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें

अमेरिकी कांग्रेस में ट्रंप लगा झटका, रक्षा विधेयक पर वीटो को किया खारिज

कोविड-19 महामारी में आम लोग जूझते रहे, वहीं अमीरों की संपति में हुआ 1 ट्रिलियन डॉलर का इजाफा





Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *