prashant dora 1611712205


भारत के पूर्व इंटरनैशनल गोलकीपर प्रशांत डोरा का मंगलवार को निधन हो गया। वह 44 वर्ष के थे। उनके परिवार में उनका 12 वर्ष का बेटा आदि और पत्नी सौमी हैं।डोरा के बड़े भाई हेमंत के मुताबिक लगातार बुखार आने के बाद उन्हें हेमोफैगोसाइटिक लिम्फोहिस्टियोसाइटोसिस (एचएलएच) का पता चला था। ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन (एआईएफएफ) के अध्यक्ष प्रफुल्ल पटेल ने डोरा के असामयिक निधन पर शोक व्यक्त किया है।

पटेल ने अपने शोक संदेश में कहा, ‘यह सुनकर दुख हुआ कि प्रशांत डोरा नहीं रहे। परिजनों के प्रति मेरी संवेदनाएं।’ एआईएफएफ के महासचिव कुशल ने कहा,’प्रशांत डोरा एक बहुत ही प्रतिभाशाली गोलकीपर थे, जिन्होंने इंटरनैशनल और डोमेस्टिक लेवल पर ख्याति प्राप्त की। उनके परिवार के प्रति मेरी संवेदनाएं। हम उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करते हैं।’

भारत और मोहन बागान फुटबॉल क्लब के लिए गोलकीपर के रूप में खेलने वाले डोरा का मंगलवार सुबह कोलकाता में निधन हो गया। डोरा ने वर्ष 1999 में काठमांडू में दक्षिण एशियाई महासंघ खेलों में नेपाल के खिलाफ अपना इंटरनैशनल डेब्यू किया था, जहां भारत ने ब्रोन्ज मेडल जीता था। उन्होंने चार आधिकारिक इंटरनैशनल मैचों में भारत का प्रतिनिधित्व किया था, जबकि 2000 और 2001 में डोमेस्टिक लेवल पर संतोष ट्रॉफी में बंगाल का प्रतिनिधित्व किया था।





Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *