money


आर्थिक सुरक्षा के लिए जीवन में निवेश जरूर करना चाहिए लेकिन निवेश का फैसला जल्दबाजी में नहीं लेना चाहिए. ऐसे कई बिंदु हैं जिन पर अगर आपने गौर नहीं किया तो फायदे की जगह नुकसान हो सकता है.

स्पष्ट करें अपना लक्ष्य

आप किस लिए निवेश कर रहे हैं यह बिल्कुल बिल्कुल स्पष्ट होना चाहे. एक तय लक्ष्य होने से आप बेहतर योजना बनाकर अपनी जरूरत को पूरा कर सकेंगे. निवेश का फैसला करते वक्त वित्तीय लक्ष्यों को लेकर किसी तरह का कोई कंफ्यूजन नहीं होना चाहिए.

निवेश जहां करना है उसकी पूरी जानकारी लें

निवेश किसी भी स्कीम या योजना में करें लेकिन उससे पहले उसकी पूरी जानकारी ले लें. सभी नियम शर्तों का गहराई से अध्ययन करें. अधूरी जानकारी की वजह से भविष्य में आपको परेशानी उठानी पड़ सकती है.

विकल्पों की तुलना

निवेश विकल्पों की ठीक से तुलना करें. आपको देखना चाहिए कि किस स्कीम या योजना ने बीते सालों में कितना रिटर्न दिया हैं और यहां निवेश करना सुरक्षित है या नहीं.

निवेश कितने समय के लिए करें

पैसा कितना समय के लिए निवेश करना है यह पहले से क्लियर होना चाहिए. यह याद रखें कि कई सेविंग स्कीम लॉक इन पीरियड के साथ आती हैं. लॉक इन पीरियड में आप अपना निवेश किया हुआ पैसा नहीं निकाल सकेंगे. निवेश करते वक्त ध्यान रखें कि योजना में कोई लॉकइन पीरियड तो नहीं है अगर है तो कितना.

समझें की आप कितना रिस्क उठाने को तैयार हैं

निवेश करने से पहले अपनी जोखिम उठाने की क्षमता का आकलन करें. अपनी क्षमता से ज्यादा रिस्क लेने पर अगर कुछ गड़बड़ होती है तो आप मुश्किल में फंस सकते हैं.

यह भी पढ़ें:

बच्चे का आधार कार्ड बनवाने में न करें देरी, जान लें इन डॉक्यूमेंट्स की पड़ती है जरुरत



Car Home Loan EMI:
Car Loan EMI Calculator

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *