pjimage 2020 12 16T071555.767


स्मार्टफोन फोन खरीदते समय यूजर कई चीजों को देखते हैं. इनमें प्रोसेसर, रैम और रोम जैसी महत्वपूर्ण चीजें होती हैं. इनमें रैम (RAM) की भूमिका अहम होती है. यह परमानेंट स्टोरेज होती है.  रैम फोन के रीढ़ और राइट करने में बहुत महत्वपूर्ण होती है.

अब सवाल उठता है कि आखिर एक फोन में कितनी रैम होनी चाहिए. वतर्मान समय में स्मार्टफोन के बढ़ते महत्व को देखें को 8 जीबी रैम ज्यादातर यूजर्स के लिए पर्याप्त है. क्योंकि ऐप्स की बढ़ती संख्या के साथ-साथ वो हैवी भी होते जा रहे हैं. जिससे ज्यादा रैम आवश्यक हो जाती है.यदि आपको लगता है कि 3-4 साल फोन इस्तेमाल करना है तो आप 12 जीबी का रैम का स्मार्टफोन भी ले सकते हैं. यह भविष्य के हिसाब से सही है.

स्टोरेज का भी रखना चाहिए ध्यान

रैम के साथ-साथ आपको स्टोरेज पर फोकस करना चाहिए. क्योंकि आपका ज्यादातर डेटा जिनमें फोटो और वीडियो भी शामिल हैं, वहीं पर स्टोर होते हैं. यदि आप ज्यादा फोटो और वीडियो का इस्तेमाल नहीं करते हैं तो 64जीबी की स्टोरेज आपके लिए काफी है. लेकिन यदि का काफी मूवी डाउनलोड करते हैं, ज्यादा ऐप्स डाउनलोड करते हैं तो आपको 128जीबी के स्टोरेज वाले स्मार्टफोन पर फोकस करना चाहिए.

एंड्रॉइड फोन में ज्यादा रैम की होती है जरूरत

वहीं, यदि एंड्रॉइड और आईओएस फोन के हिसाब से देखें तो एंड्रॉइड में 12 और 16जीबी तक की रैम मिल रही है जबकि आईफोन की कम है. इसका कारण है कि एंड्रॉइड फोन में ज्यादा ऐप्स होते हैं और अलग-अगल सैटिंग होती हैं. वहीं आईओएस में एक ही कंपनी का से बनते हैं और ऐप्स भी ज्यादातर उसी के होते हैं. इसलिए कम रैम की जरूरत होती है.

यह भी पढ़ें

क्या आपके फोन में भी नहीं आती है क्लियर आवाज? ऐसे क्लीन करें स्पीकर

19,999 की कीमत में Thomson ने लॉन्च किए 2 एंड्रॉयड TV, जानिए 20 हजार की रेंज के दूसरे ऑप्शन



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *