Jack Ma


चीन के तीसरे सबसे बड़े अरबपति और अलीबाबा ग्रुप के मालिक जैक मा पिछले करीब 2 महीने से लापता है.  चीनी सरकार के खिलाफ बोलने के बाद से ही वह ना किसी मंच पर नजर आए और ना ही किसी कार्यक्रम में. उन्होंने शंघाई के भाषण में कहा था- चीन में कोई मैच्योर फाइनेंशियल सिस्टम नहीं है. जैक मा बैंकिंग सिस्टम को ब्याज खोर कहा था.

कहां है जैक मा

जैक मा की आलोचना को चीन कम्युनिस्ट पार्टी की आलोचना के तौर पर लिया गया. कभी चीनी विकास के पोस्टर ब्वॉय कहा जाता था जैक मा को. ऐसे में सवाल उठ रहा है कि कहीं वह छिपे हुए हैं या फिर उन्हें कहीं छिपाया गया है. या कहीं बंदी तो नहीं बनाया गया है? जैक मा सबसे कामयाब इंसानों में से एक हैं, जिनके भाषण को लोग चाव से सुनते थे. दुनिया के टॉप 20 लोगों में शुमार किया जाता था. जैक मा ऐसे शख्स थे जिन्होंने अपने बूते कारोबार खड़ा किया था.

जैक मा की कंपनी ने किया बेहतरीन प्रदर्शन

चीन ही नहीं दुनियाभर की बड़ी कंपनियों में जैम मा की अलीबाबा ने जगह बनाई. पूर्व राजनयिक अनिल त्रिगुणायत का कहना है कि “उनकी एंट ग्रुप, अलीबाबा जैसी कंपनियों ने दुनिया में शानदार प्रदर्शन किया. मल्टीनेशनल कंपनी अपने आप में ही सत्ताधारी जैसे हो जाते हैं. उनकी पहुंच दुनिया में बढ़ जाती है.”

शी जिनपिंग का जैक मा पर हथौड़े की वजह बन एंट ग्रुप का आईपीओ. एंट ग्रुप के आईपीओ में निवेशकों ने 3 लाख करोड़ की बिडिंग की थी. भारत की जीडीपी से भी ज्यादा की गई थी. 2.54 लाख करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्या रखा गया था. एंट ग्रुप की मार्केट वैल्यू 315 अरब डॉलर आंकी गई थी. मिस्त्र की जीडीपी से भी ज्यादा थी एंट ग्रुप की मार्केट वैल्यू. तेल कंपनी सऊदी अरामकों का रिकॉर्ड टूटने का अंदाजा था.

जैक मा पर चीनी सरकार की कार्रवाई

5 नवंबर को आईपीओ की ट्रेनिंग शुरू की जानी थी. दुनिया के सबसे बड़े आईपीओ का तमगा मिलना तय था. यानी 300 बिलियन डॉलर जैक मा की संपत्ति और बढ़ जाती, आईपीओ के आने के बाद. लेकिन, 5 नवंबर से 11 दिन पहले शंघाई में उन्होंने चीनी सरकार की आलोचना कर दी.

शंघाई और हांगकांग में मार्केट लिस्टिंग से सिर्फ 2 दिन पहले चीन सरकार ने आईपीओ पर रोक लगा दी. जिसके बाद एंट ग्रुप ही नहीं जैक मा की संपत्ति में तेजी से गिरावट आई. चीनी सरकार ने जैक मा के एंट ग्रुप मा एकाधिकार को लेकर जांच के आदेश दे दिए हैं. 10 अक्टूबर को आखिरी बार जैक मा का ट्वीट आया था. उसके बाद से ना वह सामने आए हैं और ना ही उनका कोई ट्वीट आया है.

ये भी पढ़ें: चीन के रेगुलेटर्स की कार्रवाई के बाद लापता हुए अरबपति जैक मा!



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *