pjimage 2021 01 30T081828.577


कोरोना वायरस महामारी से सफलतापूर्वक निबटने वाले और खराब प्रदर्शन करने वाले देशों की सूची गुरुवार को जारी हो गई है. 98 देशों के कोरोना वायरस प्रदर्शन इंडेक्स में भारत ने 86वें नंबर पर जगह बनाई है. संकट का सफलतापूर्वक सामना करने वाले देशों की सूची में न्यूजीलैंड, वियतनाम और ताइवान को पहली, दूसरी और तीसरी रैंक मिली है. अमेरिका को महामारी से लड़ाई के आधार पर इंडेक्स में नीचे 94वें नंबर पर रखा गया. दक्षिण एशियाई देशों में श्रीलंका को प्रदर्शन के मामले में 10वीं रैंक मिली, मालदीव को 25, पाकिस्तान को 69, नेपाल को 70 और बांग्लादेश ने 84वें नंबर पर जगह बनाई.

 कोविड-19 रिस्पॉन्स इंडेक्स में भारत 86वें नंबर पर

इंडेक्स को सिडनी में स्थित अंतरराष्ट्रीय स्वतंत्र थिंक टैंक लोवी इंस्टीट्यूट ने तैयार किया है. इसके लिए देशों को क्षेत्र, राजनीतिक व्यवस्था, आबादी का आकार और आर्थिक विकास के आधार पर व्यापक श्रेणियों में रखा गया. कोरोना वायरस के पॉजिटिव मामलों, प्रति दस लाख आबादी पर मौत और कोरोना वायरस जांच के मामलों का प्रतिशत समेत छह विभिन्न सूचकांकों को मापा गया. सार्वजनिक रूप से उपलब्ध और कोविड-19 रिस्पॉन्स पर तुलनामत्क डेटा को इंडेक्स में शामिल कर सूचकांकों का औसत निकाला गया और हर देश को 0-100 के बीच स्कोर दिया गया.

98 देशों में न्यूजीलैंड, वियतनाम और ताइवान टॉप 3

0 स्कोर को सबसे खराब प्रदर्शन और 100 स्कोर को सबसे शानदार प्रदर्शन की श्रेणी में शोधकर्ताओं ने रखा. न्यूजीलैंड ने सबसे ज्यादा स्कोर 94. 4 हासिल किया, उसके बाद वियतमान को 90.8 स्कोर, ताइवान को 86.4 स्कोर और थाइलैंड को 84.2 मिला. ब्राजील को सबसे कम स्कोर 4.3 दिया गया. मैक्सिको, कोलंबिया, ईरान और अमेरिका को भी प्रदर्शन के मामले में निचले पांच देशों के बीच रखा गया. भारत ने कोरोना वायरस महामारी से निबटने में प्रदर्शन के आधार पर 24. 3 स्कोर हासिल किया.

लोवी इंस्टीट्यूट ने डेटा मुहैया न होने की वजह से चीन को लिस्ट से बाहर कर दिया. रिपोर्ट के मुताबिक, भारत से बेहतर 66वां रैंक हासिल करने वाले ब्रिटेन और सबसे खराब प्रदर्शन करने वाले पांच देशों की सूची में अमेरिका का नंबर भी है. थिंक टैंक ने बयान में कहा कि विकासशील देश विकसित देशों की तुलना में ‘आश्चर्यजनक रूप से’ वायरस के शुरुआती प्रकोप का सामना करने में सक्षम रहे, लेकिन अमीर देश महामारी के शुरुआती मामलों से निबटने में आसानी से ‘दब’ गए.

सुरक्षा परिषद में भारत ने उठाया आतंकी संगठनों में बच्चों की भर्ती का मुद्दा, कार्रवाई की मांग की

इजराइल एम्बेसी के नजदीक हुए ब्लास्ट के मामले एक्सप्लोसिव एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज, अमित शाह ने ली अहम बैठक



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *